आज का भविष्यफल : बुधवार को जानिए अपना भाग्य भविष्य और वर्तमान में क्या है खास

astrology in hindi
(budhwar ka rashifal)
एस्ट्रोलॉजिकल बर्थ चार्ट के अनुसार ज्योतिष का रहस्यमयी दुनिया में आज हम आपको रूबरू कराने जा रहे है 12 राशियों के राशिफल से। हम भविष्य और वर्तमान के बारे में हम आपको सतर्क करेंगे कि बुधवार को क्या करें और क्या नहीं। आज का भविष्यफल एस्ट्रोलॉजी विशेषज्ञ पूनम मिड्ढा (यमुना विहार, दिल्ली) से जानिए…
*0⃣1⃣ ?मेष- चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ ॐ*
आज अतिरिक्त आय के लिए अपने सृजनात्मक विचारों का सहारा लें। गर्गवाणी के अनुसार अगर आप पार्टी करने की सोच रहे हैं, तो अपने अपने अच्छे दोस्तों को बुलाएँ। ऐसे कई लोग होंगे, जो आपका उत्साह बढाएंगे।



*0⃣2⃣ ?वृष- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो ॐ*
 आज घरेलू मोर्चे पर समस्या खड़ी हो सकती है, इसलिए तोल-मोल कर ही बोलें। रोमांस- घूमना-फिरना और पार्टी रोमांचक तो होंगे, लेकिन साथ ही थकाऊ भी रहेंगे। गर्गवाणी के अनुसार सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है।
*0⃣3⃣ ?मिथुन- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह ॐ*
परेशानियाँ जीवन का ही हिस्सा हैं, लेकिन आज के दिन आपकी शादीशुदा ज़िन्दगी को बहुत मुश्किल हालात से गुज़रना पड़ सकता है। गर्गवाणी के अनुसार आज कोई आध्यात्मिक गुरू या बड़ा आपकी सहायता कर सकता है।
*0⃣4⃣ ?कर्क- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो ॐ*
आज पैसा अचानक आपके पास अएगा, जो अपके ख़र्चों और बिल आदि को सम्हाल लेगा। आज आपको अपने होशियारी और प्रभाव का उपयोग संवेदनशील घरेलू मुद्दों को हल करने के लिए करना चाहिए। गर्गवाणी के अनुसार अपनी व्यक्तिगत भावनाएँ और गोपनीय बातें अपने प्रिय से बाँटने का सही समय नहीं है।
*0⃣5⃣ ?सिंह- मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे ॐ*
आज के दिन आपको जो खाली समय मिलने वाला है, उसका भरपूर लाभ लें और अपने परिवार के साथ कुछ प्यार भरे पल गुज़ारें। गर्गवाणी के अनुसार आज ध्यान से वाहन चलाएँ, ख़ास तौर पर तेज़ मोड़ों और चौराहों पर। आपके ख़र्चे बजट को बिगाड़ सकते हैं और इसलिए कई योजनाएँ बीच में अटक सकती हैं।



*0⃣6⃣ ?कन्या- ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो ॐ*
 आज आप बेहतर ज़िन्दगी के लिए अपनी सेहत और व्यक्तित्व में सुधार लाने कि कोशिश करें। ज़रूरत से ज़्यादा ख़र्च करने और चालाकी-भरी आर्थिक योजनाओं से बचें। गर्गवाणी के अनुसार संभव है कि आज आपकी जीभ को भरपूर मज़ा मिले – किसी उम्दा रेस्तराँ में जाना मुमकिन है और लज़ीज़ खाने का लुत्फ़ उठा सकते हैं।
*0⃣7⃣ ⚖तुला- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते ॐ*
आज  घरेलू ज़िम्मेदारियों से किसी भी क़ीमत पर पल्ला न झाड़ें। सम्भव है कि आपके जीवनसाथी की वजह से आपकी प्रतिष्ठा को थोड़ी ठेस पहुँचे। गर्गवाणी के अनुसार सोच और कपड़ों से मनुष्य का व्यक्तित्व झलकता है – अपने लिए कुछ अच्छे कपड़ों की ख़रीदारी से बेहतर आज और क्या हो सकता है।
*0⃣8⃣ ?वृश्चिक- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू ॐ*
 आज आपको सुकून हासिल करने लिए कुछ पल क़रीबी दोस्तों के साथ बिताएँ। सबको अपनी महफ़िल में दावत दें। क्योंकि आपके पास आज अतिरिक्त ऊर्जा है, जो आपको किसी पार्टी या कार्यक्रम का आयोजन करने के लिए प्रेरित करेगी। गर्गवाणी के अनुसार अपने जीवनसाथी के साथ आपका भावनात्मक बंधन कुछ कमज़ोर होता हुआ मालूम होगा।
Rashifal (29 july) Saturday
*0⃣9⃣ ?धनु- ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे ॐ*
आज आपका सबसे बड़ा सपना हक़ीक़त में बदल सकता है। लेकिन अपने उत्साह को क़ाबू में रखें, क्योंकि ज़्यादा ख़ुशी भी परेशानी का सबब बन सकती है। गर्गवाणी के अनुसार अपने दिल की बात ज़ाहिर करके आप ख़ुद को काफ़ी हल्का और रोमांचित महसूस करेंगे।
*1⃣0⃣ ?मकर- भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी ॐ*
आज रुपये-पैसे के हालात और उससे जुड़ी समस्याएँ तनाव का कारण साबित हो सकती हैं। हँसी-मज़ाक में कही गयी बातों को लेकर किसी पर शक़ करने से बचें। गर्गवाणी के अनुसार आज न सिर्फ़ अजनबियों से, बल्कि दोस्तों से सावधान रहने की ज़रूरत भी है।
*1⃣1⃣ ⚱कुंभ- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा ॐ*
आपको भविष्य के लिए पैसे जमा करने चाहिए, नहीं तो आगे आप मुश्किल में पड़ सकते हैं। अपने प्रिय को नज़रअंदाज़ करना घर पर तनाव का कारण बन सकता है। गर्गवाणी के अनुसार महत्वपूर्ण लोगों के साथ बातचीत करते वक़्त अपने शब्दों को ग़ौर से चुनें।
*1⃣2⃣ ?मीन- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची ॐ*
आज आपको समझना चाहिए कि शराब सेहत की सबसे बड़ी दुश्मन है और यह आपकी क्षमताओं पर भी कुठाराघात करती है। गर्गवाणी के अनुसार आपकी लगन और मेहनत पर लोग ग़ौर करेंगे और आज इसके चलते आपको कुछ वित्तीय लाभ मिल सकता है।
? ~ *बुधवार का पंचांग* ~ ?
*ऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँऊँ*
*बुधवार 0⃣6⃣ सितम्बर 2⃣0⃣1⃣7⃣*
सूर्योदय : ०६:०५
सूर्यास्त : १८:३३
चन्द्रोदय : १८:४९
चन्द्रास्त : चन्द्रास्त नहीं
शक सम्वत : १९३९
विक्रम सम्वत : २०७४
गुजराती सम्वत : २०७३
अमांत महीना : भाद्रपद
*पूर्णिमांत महीना : भाद्रपद*
पक्ष : शुक्ल पक्ष
*तिथि : पूर्णिमा – १२:३२ तक*



नक्षत्र : शतभिषा – १२:५७ तक
योग : धृति – २४:३३+ तक
प्रथम करण : बव – १२:३२ तक
द्वितीय करण : बालव – २४:१६+ तक
सूर्य राशि : सिंह
चन्द्र राशि : कुम्भ
*राहुकाल : १२:१९ – १३:५२*
गुलिक काल : १०:४५ – १२:१९
यमगण्ड : ०७:३८ – ०९:१२
*अभिजीतमुहूर्त : कोई नहीं*
दूमुहूर्त : ११:५४ – १२:४४
अमृत काल : २८:५७+ – ३०:३३+
वर्ज्य : १९:२१ – २०:५७
*त्यौहार और व्रत*
*भाद्रपद पूर्णिमा*
*प्रतिपदा श्राद्ध*
❌ राहुकाल मे सभी कार्य वर्जित हैं|❌

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top
error: Content is protected !!