इस सावन के सोमवार को कीजिये ये छोटा सा उपाय, भोलेनाथ करेंगे सभी मनोकामनाओं की पूर्ति :o

सावन के महीने की हिंदू धर्म में

ख़ास अहमियत होती है। इस महीने को बहुत ही पवित्र महीना भी माना जाता है। इस महीने में भगवान शिव की सच्चे मन से पूजा करने पर व्यक्ति की सभी मनोकामनाएँ पूरी हो जाती हैं। इस बार सावन 28 जुलाई से शुरू हो रहा है। भगवान शिव को वैसे तो हर दिन पूजा जाता है और ख़ासतौर से सोमवार को भगवान शिव का दिन माना जाता है। सोमवार को हिंदू धर्म में आस्था रखने वाले लोग भगवान शिव की पूजा करते हैं।

अगर सावन के महीने की बात करें

तो यह महीना भगवान शिव का सबसे प्रिय महीना है। इस महीने में कुछ आसान उपायों से आप भगवान शिव को प्रसन्न करके सुखी जीवन का आशीर्वाद पा सकते हैं। आज हम आपको भगवान शिव को आसानी से ख़ुश करने के लिए कुछ उपाय बता रहे हैं। इस बार सावन के महीने में 4 सोमवार पड़ रहे हैं। मछलियों को आटे की गोलियाँ खिलाने से धन प्राप्ति के योग बनते हैं, साथ ही भाग्य का उदय भी हो जाता है। इस सावन में कुछ विशेष उपाय करके आप जीवनभर सुखी रह सकते हैं।

सावन में करें ये उपाय:

इस सावन में सुबह-सुबह स्नान करके शिव मंदिर जाएँ और भगवान शिव का जाल से अभिषेक करें। काले तिल अर्पित करने के बाद कुछ देर तक वहीं बैठकर ‘ॐ नमः शिवाय’ मंत्र का जाप करें।

नदी या तालाब में

जाकर आटे की गोलियाँ मछलियों को खिलाएँ। यह करते समय मन में भगवान शिव का भी ध्यान करते रहें, इससे धन प्राप्ति के योग बनते हैं।

अगर आपके विवाह में

किसी तरह की दिक़्क़त आ रही है तो शिवलिंग पर केसर मिला हुआ दूध अर्पित करें।

बैल को

हरे रंग का चारा खिलाएँ। इससे आपका जीवन बेहतर हो जाएगा और आपको प्रसन्नता भी मिलेगी।

ग़रीबों को भोजन करवाएँ

इससे आपके घर में अन्न की कभी कमी नहीं होगी और पितरों की आत्मा भी शांत होगी।

21 बेलपत्रों पर

चंदन से ॐ नमः शिवाय लिखें और उसे शिवलिंग के ऊपर अर्पित कर दें। साथ ही एकमुखी रुद्राक्ष भी चढ़ाएँ, इससे जीवन की सभी मनोकामनाएँ पूर्ण हो जाएँगी।

मान्यता है कि माता सती ने अपने जीवन का

त्याग करने के बाद कई वर्षों तक श्रापित जिवव जिया था। बाद में उनका जन्म पर्वतराज हिमालय के घर पार्वती के रूप में हुआ। माता पार्वती ने भगवान शिव को पाती के रूप में पाने के लिए कठोर तपस्या की। उन्होंने तपस्या सावन के महीने में की थी। उनकी तपस्या से ख़ुश होकर भगवान शिव ने उनकी मनोकामना पूरी कर दी। माता सती को पार्वती के रूप में पुनः पाकर भगवान शिव बहुत प्रसन्न हुए। उसी समय से उन्हें सावन का महीना बहुत प्रिय है।

इस साल सावन का महीना 28 जुलाई से शुरू हो रहा है और इस सावन में चार सोमवार पड़ेंगे। पहला सावन का सोमवार 30 जुलाई को है, दूसरा 6 अगस्त को, तीसरा 13 अगस्त को और आख़िरी 20 अगस्त को पड़ रहा है। 26 अगस्त को रक्षाबंधन के दिन सावन महीने का अंत होगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top
error: Content is protected !!