Home ज्योतिष 4 मई को शुक्र का अपनी राशि में प्रवेश, कोरोना महामारी संक्रमण...

4 मई को शुक्र का अपनी राशि में प्रवेश, कोरोना महामारी संक्रमण से होने वाली मृत्यु…

समस्त प्रकार के भौतिक सुखों को प्रदान करने वाले शुक्र देव मेष राशि की यात्रा समाप्त करके 4 मई को दोपहर 1 बजकर 23 मिनट पर अपनी स्वयं की राशि वृषभ में प्रवेश कर रहे हैं। (venus transit) इस राशि पर ये 28 मई की रात्रि 11 बजकर 57 मिनट तक गोचर करेंगे उसके बाद मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि वृष राशि में पाप ग्रह राहु पहले से ही विराजित हैं। बुध ग्रह 1 मई को आ गए और शुक्र ग्रह के आ जाने से वृष राशि में तीन ग्रहों की युति बन जाएगी। (venus transit) जो मेष राशि से लेकर मीन राशि के जातकों को प्रभावित करेगी। अमृत संजीवनी के मालिक शुक्र के कारण कोरोना महामारी संक्रमण में कमी आयेगी। कोरोना महामारी संक्रमण से होने वाली मृत्यु दर में कमी आएगी और कोरोना का असर न्यूनतम होगा।

budh grah rashi parivartan 2021 mahashivratri 2021 mercury entering aquarius on 11 march mahashivratri know which zodiac sign will be affected in hindi

ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि वैदिक ज्योतिष में शुक्र ग्रह को एक शुभ ग्रह माना गया है। इसके प्रभाव से व्यक्ति को भौतिक, शारीरिक और वैवाहिक सुखों की प्राप्ति होती है। इसलिए ज्योतिष में शुक्र ग्रह को भौतिक सुख, वैवाहिक सुख, भोग-विलास, शोहरत, कला, प्रतिभा, सौन्दर्य, रोमांस, काम-वासना और फैशन-डिजाइनिंग आदि का कारक माना जाता है। शुक्र वृषभ और तुला राशि का स्वामी होता है और मीन इसकी उच्च राशि है, जबकि कन्या इसकी नीच राशि कहलाती है। शुक्र को 27 नक्षत्रों में से भरणी, पूर्वा फाल्गुनी और पूर्वाषाढ़ा नक्षत्रों का स्वामित्व प्राप्त है। ग्रहों में बुध और शनि ग्रह शुक्र के मित्र ग्रह हैं और तथा सूर्य और चंद्रमा इसके शत्रु ग्रह माने जाते हैं।

anish vyas astrologer
अनीष व्यास, विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक, पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर 9460872809

शुक्र के पास अमृत संजीवनी (venus transit)

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि अमृत संजीवनी के मालिक शुक्र पृथ्वी के साथ हैं और शुक्र के पास अमृत संजीवनी है। इस कारण कोरोना महामारी संक्रमण में कमी आयेगी। कोरोना महामारी संक्रमण से होने वाली मृत्यु दर में कमी आएगी और कोरोना का असर न्यूनतम होगा। प्राकृतिक आपदा और अप्रिय घटनाएं जन शून्य स्थानों पर होने की संभावना अधिक है। शुक्र अमृत संजीवनी के कारण संक्रमण और दुर्घटना के शिकार लोगों को बचाने में सफल रहेंगे।

यहां दबाकर धर्म कथाएं का मोबाइल एप डाउनलोड करें

3 राशियों के लिए शुभ (venus transit)

विख्यात भविष्यवक्ता अनीष व्यास ने बताया कि शुक्र की चाल में बदलाव होने से सिंह, वृश्चिक और धनु राशि वाले लोगों के लिए अच्छा समय रहेगा। इन 3 राशियों के नौकरीपेशा और बिजनेस करने वाले लोगों को फायदा हो सकता है। कामकाज की तारीफ होगी और आगे बढ़ने के मौके मिल सकते हैं। किस्मत का साथ मिलेगा। दुश्मनों पर जीत मिलेगी। लव लाइफ और दांपत्य जीवन में सुख मिलेगा।

7 राशियों के लिए मिला-जुला समय (venus transit)

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि अपनी ही राशि में शुक्र के आ जाने से मेष, वृष, कर्क, कन्या, मकर, कुंभ और मीन राशि वाले लोगों के लिए मिला-जुला समय रहेगा। इन राशि वालों की सेहत में सुधार होगा लेकिन रोजमर्रा के कामों में रुकावटें आ सकती है। पैसा खर्चा हो सकता है। दांपत्य सुख में कमी आ सकती है। साझेदारी संबंधी मामलों में उलझने आ सकती है। बिजनेस के जरूरी फैसले सोच-समझकर लेने होंगे।

मिथुन और तुला राशि के लिए अशुभ (venus transit)

विख्यात कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि शुक्र के राशि बदलने से मिथुन और तुला राशि वाले लोगों को संभलकर रहना होगा। इन राशियों के लोगों के फालतू खर्चे बढ़ सकते हैं। दांपत्य सुख में कमी आ सकती है। राज की बातें उजागर हो सकती है। मेहनत बढ़ेगी। अपोजिट जेंडर वालों से संबंध बिगड़ सकते हैं। विवाद और दौड़-भाग भी हो सकती है।

शुक्र का शुभ-अशुभ प्रभाव (venus transit)

विख्यात कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि शुक्र के राशि परिवर्तन से कोरोना महामारी से होने वाली मृत्यु दर में कमी आएगी और कोरोना का असर न्यूनतम होगा। भौतिक सुख और वैवाहिक सुख में वृद्धि होगी। कानूनी मामलों में वृद्धि होगी। देश की अर्थव्यवस्था के लिए शुभ रहेगा। शुक्र के राशि बदलने से खाने की चीजों की कीमतें सामान्य रहेंगी। सब्जियां, तिलहन और दलहन की कीमतें कम होंगी। मशीनरी समान महंगे हो सकते हैं। व्यापार में तेजी रहेगी। सोने चांदी के भाव में वृद्धि होगी। दूध से बनी चीजों का उत्पादन बढ़ सकता है। सुख-सुविधाओं की चीजों में बढ़ोत्तरी भी हो सकती है। रोजगार के क्षेत्रों में वृद्धि होगी। आय में बढ़ोतरी होगी। इसके साथ ही राजनीति में उतार-चढ़ाव देखने को मिलेगा। शुक्र के अशुभ प्रभाव से स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां भी होती है।

somvati amavasya 2021

शुक्र ग्रह के उपाय (venus transit)

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि लक्ष्मी माता की उपासना करें। सफेद वस्त्र दान करें। भोजन का कुछ हिस्सा गाय, कौवे और कुत्ते को दें। शुक्रवार का व्रत रखें और उस दिन खटाई न खाएं। चमकदार सफेद एवं गुलाबी रंग का प्रयोग करें। श्री सूक्त का पाठ करें। शुक्रवार के दिन दही, खीर, ज्वार, इत्र, रंग-बिरंगे कपड़े, चांदी, चावल इत्यादि वस्तुएं दान करें।

आइए विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास से जानते हैं कि शुक्र के गोचर से सभी राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

मेष राशि

मेष राशि के जातकों के लिए शुक्र का राशि परिवर्तन शुभ कहा जा सकता है। धन- लाभ के योग बन रहे हैं। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। पारिवारिक जीवन में आनंद का अनुभव करेंगे। स्वास्थ्य का ध्यान रखने की आवश्यकता है।

mesh rashi

वृष राशि

वृष राशि के जातकों के लिए ये समय किसी वरदान से कम नहीं है। नया कार्य शुरू करने के लिए समय काफी अच्छा है। कार्यों में सफलता मिलने के योग बन रहे हैं।

vrishabha rashi

मिथुन राशि

स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। परिवार के सदस्यों के साथ प्रेम से रहें, नहीं तो संबंध बिगड़ सकते हैं। धन का अधिक खर्च करने से बचना होगा।

कर्क राशि

शुभ फल की प्राप्ति होगी। धन- लाभ होने के योग भी बन रहे हैं। परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा। शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये समय किसी वरदना से कम नहीं है। कार्य- व्यापार में लाभ होने के संकेत, लेकिन निर्णय लेने में विलंब न करें। विवाह के योग भी बन रहे हैं।

सिंह राशि

नौकरी, व्यापार में लाभ होने के योग बन रहे हैं। जमीन- जायदाद से जुड़े मामले हल होंगे। मकान या नया वाहन ले सकते हैं। व्यापारियों के लिए ये समय काफी अच्छा रहने वाला है।

singh rashi

कन्या राशि

धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में हिस्सा लेंगे। दान- पुण्य करने का अवसर मिलेगा। आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी। विवाह के योग भी बन रहे हैं। परिवार में मांगलिक कार्य हो सकते हैं।

kanya rashi

तुला राशि

शुक्र के वृष राशि में प्रवेश से तुला राशि के जातकों को मिले- जुले परिणाम मिलेंगे। मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि हो सकती है। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। कार्यक्षेत्र में सभी पर भरोसा करने से बचें। कोर्ट- कचहरी के मामलों को बाहर सुलझा लें। खर्चों में वृद्धि हो सकती है।

tula rashi

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए ये समय किसी वरदान से कम नहीं है। व्यापार में लाभ होगा। दांपत्य जीवन में प्रेम बढ़ेगा। शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये समय काफी अच्छा कहा जा सकता है। परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा।

vrishchik rashi

धनु राशि

धनु राशि के जातकों को शुक्र के वृष राशि में प्रवेश से सावधान रहने की आवश्यकता है। यह समय काफी उतार- चढ़ाव वाला रहने वाला है। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। लेने- देन के मामलों में सावधानी बरतें। आर्थिक समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है।

dhanu rashi

मकर राशि

शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये समय किसी वरदान से कम नहीं है। दांपत्य जीवन में प्रेम बढ़ेगा। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में हिस्सा लेने का अवसर मिलेगा। परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा। पारिवारिक जीवन में रिश्ते मधुर होंगे।

makar rashi

कुंभ राशि

मान- सम्मान और पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। मकान या नया वाहन लेने के योग भी बन रहे हैं। परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। सरकारी नौकरी के योग भी बन रहे हैं। मित्रों तथा परिवार के सदस्यों से सुखद समाचार भी प्राप्त होंगे।

kumbh rashi

मीन राशि

मीन राशि के जातकों के लिए शुक्र का वृष राशि में गोचर मिला-जुला रहने वाला है। पारिवारिक जीवन में मधुरता आएगी। आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी।

meen rashi

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments