Home पर्व और त्योहार शनिवार के दिन पीपल के पेड़ पर चढाया जाता है दूध, जाने...

शनिवार के दिन पीपल के पेड़ पर चढाया जाता है दूध, जाने क्या है इसका महत्व !!!!

जीवन को सुखमय बनाने के लिए

भगवान को नियमित रूप से याद करना और उनकी पूजा करना बहुत जरूरी होता है। कई बार ऐसा होता है कि ग्रहों की चाल बदलने से जीवन में कष्‍टमय हो जाता है लेकिन ग्रहों की अनिष्टदायक स्थिति को मंगलमय बनाने के लिए कुछ सरल उपाय करें तो निश्चित ही हमें शुभदायक परिणाम प्राप्‍त होते हैं। ईश्वर में श्रद्धा रखने वाले कुछ लोग रोजाना पूजा-पाठ करते हैं, तो कुछ लोग विशेष दिन ही पूजा पाठ करते हैं।

हिंदू धर्म में शनिवार को पूजा-पाठ का

विशेष महत्व हैं। कई बार जब लोगों की ग्रह दशा ठीक नही होती है तो लोग इस दिन विशेष रूप से पूजा करते हैं। ऐसा माना जाता है की शनिवार को पीपल के पेड़ के नीचे कच्चा दूध चढ़ाने से काफी लाभ मिलता हैं, आइए जानते है क्या महत्व है ऐसा करने का।

कहा जाता है की शनिवार को पीपल के पेड़ के नीचे

कच्चा दूध चढ़ाने का बहुत महत्व होता है। अक्सर लोगों को प्रत्येक शनिवार को पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाते हुए भी देखा जाता है। बताया गया है की प्रत्येक शनिवार को पीपल के वृक्ष पर जल, कच्चा दूध चढ़ाकर, सात परिक्रमा करके सूर्य, शंकर और पीपल इन तीनों की सविधि पूजा करना चाहिए तथा चढ़े हुए जल को नेत्रों में लगाएं और “पितृ देवाय नम:” का जाप चार बार करे तो राहु व केतु, शनि व पितृ दोष का निवारण होता है। सदैव प्रात:काल उठते ही माता-पिता, गुरु एवं वृद्धजनों को प्रणाम करें और उनका आत्मिक आशीर्वाद प्राप्त करके दिन को सफल बनाएं। इसके साथ ही 5 सुगंधित अगरबत्ती लगाकर दिन की शुरूआत करें।

प्रतिदिन गाय को गुड़-रोटी दें

हो सके तो गाय का पूजन करके ‘आज के दिन यह कामधेनु वांछित कार्य करेगी’ ऐसी प्रार्थना मन में करें। नित्य प्रति कुत्तों को रोटी खिलानी चाहिए और पक्षियों को दाना भी डालें तो शुभ है। घर आए मेहमानों की सेवा निष्काम भाव से करनी चाहिए क्‍योंकि अतिथि को भगवान तुल्‍य माना गया है। स्नान के पश्चात प्रात: सूर्यनारायण भगवान को लाल पुष्प चढ़ाकर बार-बार हाथ जोड़कर नमस्कार करना चाहिए। कुछ न कुछ गरीबों को दान देना चाहिए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments