Home ज्योतिष Sun Transit 2021 : सूर्य के मीन राशि में प्रवेश करने से...

Sun Transit 2021 : सूर्य के मीन राशि में प्रवेश करने से शुरू होगा मलमास, ग्रहों के राजा सूर्य 14 मार्च को करेंगे राशि परिवर्तन

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सूर्य को सभी ग्रहों में सबसे शक्तिशाली माना जाता है। जब भी (Sun Transit 2021) सूर्य राशि परिवर्तन करते हैं इसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता है। सूर्यदेव 14 मार्च को शाम 6:04 पर मीन राशि में प्रवेश करेंगे और 14 अप्रैल प्रातः 2:33 तक मीन राशि में ही रहेंगे। सू्र्यदेव जब कुंभ राशि से गुरु की मीन राशि में प्रवेश करते हैं तो इस अवस्था को सूर्य की मीन संक्रांति कहा जाता है। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि यह हिंदू साल का आखिरी महीना होता है और इस दिन सूर्यदेव मीन राशि में प्रवेश करते हैं। इस कारण इसे मीन संक्रांति कहा जाता है। इस साल मीन संक्रांति 14 मार्च 2021 रविवार को है। इस अवधि को खरमास या मलमास कहते हैं। मलमास अथवा खरमास में विवाह कार्य, भूमि पूजन और गृह प्रवेश आदि वर्जित हैं।

lord sun transit in pisces zodiac malmas 2021 start date in hindi

ज्योतिष शास्त्र में मीन संक्रांति का विशेष महत्व होता है। सूर्यदेव का जब-जब गुरु की राशि धनु एवं मीन में परिभ्रमण होता है या धनु व मीन संक्रांति होती है तो वह मलमास कहलाती है। (Sun Transit 2021)  ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि मीन संक्रांति में मांगलिक कार्य वर्जित होते हैं। मलमास में नामकरण, विद्या आरंभ, कर्ण छेदन, अन्न प्राशन, उपनयन संस्कार, विवाह संस्कार, गृह प्रवेश तथा वास्तु पूजन आदि मांगलिक कार्यों को वर्जित माना जाता है। खरमास में सूर्य ग्रह देवगुरु बृहस्पति की सेवा में रहते हैं। इस वजह से इस माह में मांगलिक कर्म करने से बचना चाहिए।

सूर्य का शुभ-अशुभ प्रभावsurya ka prabhav in hindi

सूर्य के शुभ प्रभाव से जॉब और बिजनेस में तरक्की के योग बनते हैं और लीडरशीप करने का मौका भी मिलता है। विख्यात भविष्यवक्ता अनीष व्यास ने बताया कि ज्योतिष में सूर्य को आत्माकारक ग्रह कहा गया है। इसके प्रभाव से आत्मविश्वास बढ़ता है। पिता, अधिकारी और शासकिय मामलों में सफलता भी सूर्य के शुभ प्रभाव से मिलती है। वहीं सूर्य का अशुभ प्रभाव असफलता देता है। जिसके कारण कामकाज में रुकावटें और परेशानियां बढ़ती हैं। धन हानि और स्थान परिवर्तन भी सूर्य के कारण होता है। सूर्य के अशुभ प्रभाव से स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां भी होती है।

anish vyas astrologer
अनीष व्यास, विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक, पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर 9460872809

विशेष आंकलन(Sun Transit 2021)

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि सूर्य गुरू के नक्षत्र में, मंगल सूर्य के नक्षत्र में और गुरु मंगल के नक्षत्र में है। बुध ने मंगल के घनिष्ठा नक्षत्र में प्रवेश कर लिया है। घनिष्ठा नक्षत्र शुभ होने से बुध एवं मंगल के कारण बैक और सेना में भर्ती हो सकती है। बुध जहां भी होता है वहां हँसने का काम होता है। पूरा विश्व एक पल के लिए मंगलवार होने पर जरूर हंसेगा। बुध के कारण रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और जनमानस के चेहरे पर रौनक वापस दिखाई देगी।

सूर्य के उपाय(Sun Transit 2021)

विख्यात कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि भगवान विष्णु की उपासना करें। सूर्य को अर्घ्य दे। रविवार का व्रत रखना। मुंह में मीठा डालकर ऊपर से पानी पीकर ही घर से निकलें। पिता और पिता के संबंधियों का सम्मान करें। लाल और केसरिया रंग के वस्त्र धारण करें। प्रातः सूर्योदय से पहले उठें और अपनी नग्न आँखों से उगते हुए सूरज का दर्शन करें। सूर्य देव की पूजा करें। भगवान राम की पूजा करें। आदित्य हृदय स्तोत्र का जाप करें।

मीन संक्रांति दान का शुभ मुहूर्त(Sun Transit 2021)

मीन संक्रांति के दिन पुण्य काल का समय- शाम 06:18 से 06:29 तक।
पुण्य काल की अवधि- 11 मिनट

दान करना चाहिए(Sun Transit 2021)

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान के ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि मीन संक्रांति के दिन अपने अराध्य देव की अराधना करनी चाहिए। इस दिन सूर्यदेव को अर्घ्य देना चाहिए। इस दिन तिल, वस्त्र और अनाज का दान करना चाहिए। मीन संक्रांति के दिन मंदिर जाकर भगवान के दर्शन करने चाहिए। इस दिन गाय को चारा खिलाना शुभ माना जाता है। इस दिन गंगा, यमुना आदि पवित्र नदियों में स्नान करना शुभ माना जाता है।

आइए विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास से जानते हैं कि सूर्य का मीन राशि में प्रवेश करने से राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

मेष राशि
सूर्य के कारण खर्चों में बढ़ोतरी हो सकती है। सूर्य द्वादश रहेगा। इस वजह से आंखों से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। तनाव बढ़ सकता है।

वृष राशि
इन लोगों के लिए सूर्य एकादश रहेगा। इस कारण इस राशि की आय में बढ़ोतरी होने के योग बन सकते हैं। नौकरी में खास काम पूरा हो सकता है।

मिथुन राशि
इस राशि के लिए सूर्य दशम रहेगा। घर-परिवार में कोई शुभ काम हो सकता है। परिवार की मदद से किसी काम में सफलता और लाभ मिल सकता है।

budh grah rashi parivartan 2021 mahashivratri 2021 mercury entering aquarius on 11 march mahashivratri know which zodiac sign will be affected in hindi

कर्क राशि
सूर्य नवम हो जाएगा। इस कारण कर्क राशि के लिए ये समय शुभ रहेगा। भाग्या का साथ मिलेगा। मान-सम्मान और सफलता मिल सकती है।

सिंह राशि
इन लोगों के लिए सूर्य अष्टम रहेगा। इस वजह से अनजाना डर सता सकता है। तनाव बढ़ सकता है। मेहनत ज्यादा करेंगे तो ही कुछ लाभ मिल सकता है।

कन्या राशि
सूर्य के सप्तम होने से जीवन साथी के साथ वाद-विवाद हो सकता है। प्रेम बनाए रखें और सोच-समझकर का बात करें। धैर्य न छोड़ें। सावधान रहें।

तुला राशि
सूर्य षष्ठम होने से स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा। शत्रुओं हावी होने की कोशिश करेंगे, लेकिन आपका नुकसान नहीं कर पाएंगे। धैर्य रखें।

वृश्चिक राशि
सूर्य पंचम रहेगा, इस कारण संतान से सुख मिलेगा। नौकरी और कार्य स्थल पर लाभ मिलने के योग हैं। मान-सम्मान मिलेगा।

धनु राशि
इनके लिए सूर्य चतुर्थ होने के कारण लाभदायक स्थितियां बन सकती हैं। धन मिलने के योग हैं। घर-परिवार और समाज में सुखद वातावरण रहेगा।

मकर राशि
सूर्य तृतीय हो जाएगा। इस कारण किसी मनपसंद की जगह पर घूमने जा सकते हैं। भाइयों से और मित्रों से सहयोग मिलेगा। धन लाभ भी हो सकता है।

कुंभ राशि
द्वितीय सूर्य लाभ दिलाने वाला रहेगा। लेकिन, जोश में कोई काम न करें। धैर्य बनाए रखें। आंखों से जुड़ी समस्या हो सकती है।

मीन राशि
सूर्य अब इसी राशि में रहने वाला है। आपके वर्चस्व में बढ़ोतरी हो सकती है। लाभ मिल सकता है। बाधाएं दूर होने के योग हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments