Home ज्योतिष अपने जन्मांक के अनुसार लंकी रंगों से खेलें होली, और पाएं समृद्धि...

अपने जन्मांक के अनुसार लंकी रंगों से खेलें होली, और पाएं समृद्धि का आशीर्वाद

होली खुशियों का पर्व है, गिले शिकवे भुलाकर एक रंग में रंग जाने का पर्व है जिसे देशभर में उल्लास और उत्साह के साथ मनाया जाता है. जीवन में रंगों की अहम भूमिका होती है, हमारे तीज-त्यौहार और सप्ताह के दिनों में भी रंगों की एक खास भूमिका है. लाल, गुलाबी, हरे, नीले, पीले ये रंग व्यक्ति के जीवन में खुशियों के रंग भर देते हैं. रंग लोगों को सकारात्मक और नकारात्मक दोनो तरह की ऊर्जाओं को समाहित किए होते हैं. हर रंग का अपना एक प्रभाव होता है, ये तो आप जानते ही होंगे कि हर व्यक्ति का अपना एक प्रिय रंग और एक लकी कर होता है. होली के रंग सिर्फ त्यौहार में खेलने के लिए नहीं होते वरन इनके पीछे कई धार्मिक और वैज्ञानिक कारण भी निहित होते हैं. आज हम आपको आपके जन्मांक के जरिए आपका शुभ रंग बताने जा रहे हैं जिसे इस होली लगाकर आप अपनी किस्मत को बुलंद कर सकें, और खुशियों से आपका घर भी रंग जाए.

जन्मतिथि – 1, 10, 19, 28

1 अंक सूर्य का अंक है, जो व्यक्ति को ऊर्जा देता है.

जिन लोगों का जन्मांक 1 हो उन्हें इस साल लाल रंग के गुलाल का प्रयोग होली खेलने में करना चाहिए, जैसे सूर्य में तेज होता है वैसा ही तेज यदि रंगों की बात करें तो लाल रंग में होता है. लाल रंग व्यक्ति को नई ऊर्जा से भर देता है. इस रंग के प्रयोग से व्यक्ति को उत्तम स्वास्थ्य मिलता है ये रंग व्यक्ति के जीवन में उत्साह भरता है. जो लोग रक्तचाप संबंधी बीमारियों से परेशान हैं उन्हें इस रंग का उपयोग करना चाहिए. लाल रंग के प्रयोग से व्यक्ति के जीवन से आलस्य खत्म हो जाता है, व्यक्ति के उसके पिता से संबंध मजबूत होते हैं आत्मविश्वास में वृद्धि होती है. और नई ऊर्जा का विकास होता है.

जन्मतिथि – 2, 11, 20, 29

जिन लोगों का जन्मांक 2 होता है वो चंचल स्वाभाव के होते हैं क्योंकि 2 अंक चंद्रमा का प्रतिनिधित्व करता है. क्योंकि चंद्रमा का रंग सफेद होता है लिहाजा 2 अंक वाले लोगों के लिए उनका शुभ रंग भी सफेद होता है.

सफेद रंग सकारात्मकता, शांति का प्रतीक है, ये रंग व्यक्ति को शीतलता और प्रसन्नता प्रदान करता है. इस रंग के प्रयोग से व्यक्ति को मानसिक रूप में शांति मिलती है. जिन लोगों का जन्मांक दो हैं उन्हें इस साल होली पर सफेद रंग का प्रयोग करना चाहिए, ये रंग आपके जीवन में सफलता के नए अवसर लाएगा और आपके जीवन को प्रेम और समृद्धि से भर देगा. आपकी सोच सकारात्मक होगी और तरक्की के नए रास्ते खुलेंगे.

इस रंग के प्रयोग से आपका क्रोध भी कम होगा.

जन्मतिथि – 3, 12, 21, 30

जिन व्यक्तियों का जन्मांक 3 होता है उनके लिए पीला रंग शुभ होता है. 3 अंक गुरू का है और गुरू ग्रह का संबंध पीले रंग से होता है. पीले रंग का उपयोग करने से व्यक्ति को धन, बुद्धि, विद्या और सात्विकता प्राप्त होती है. गुरू ग्रह के मजबूत होने से व्यक्ति को संतान सुख भी मिलता है साथ ही व्यक्ति को धनलाभ भी होता है. होली के दिन जन्मांक 3 वाले लोगों को पीले रंग से होली खेलनी चाहिए इससे जीवन में खुशहाली बनी रहेगी.

जन्मतिथि – 4, 13, 22, 31

जिन जातकों का जन्मांक 4 होता है वो चंचल स्वाभाव के होते हैं. जन्मांक 4 वाले जातकों को नीले रंग का प्रयोग करना चाहिए, ऐसे लोगों के लिए नीला रंग शुभ होता है. नीला रंग धैर्य का रंग होता है, 4 अंक वाले जातक नकारात्मक और जल्दी धैर्य खो देने वाले होते हैं इसलिए इन्हें नीले रंग को प्रयोग करने की सलाह दी जाती है. 4 अंक वाले जातकों को उनकी मेहनत का पूरा फल नहीं मिलता जीवन में उतार चढ़ाव बना रहता है. 4 जन्मांक वालों को होली के दिन नीले रंग का प्रयोग करना चाहिए. इससे आपको जीवन में कार्यक्षेत्र का विस्तार होगा, और बुद्धि का विकास होगा.

जन्मतिथि – 5, 14, 23

अंक पांच बुध ग्रह का अंक माना जाता है, बुध ग्रह के जातक समझदार, रसिक स्वाभाव और कुशल वक्ता माने जाते हैं. जिन जातकों का जन्मांक 5 हो ऐसे लोगों को हरे रंग का प्रयोग करना चाहिए, बुध ग्रह का रंग हरा ही माना गया है. ये रंग गर्भवती महिलाओं और विद्यार्थियों के लिए अच्छा होता है. होली में इस रंग का प्रयोग करने से रिश्ते मजबूत होंगे और घर परिवार में शांति बनी रहेगी.

जन्मतिथि – 6, 15, 24,

अंक 6 को शुक्र ग्रह का अंक माना जाता है. शुक्र ग्रह प्रेम का प्रतीक है. जन्मांक 6 वाले जातकों के लिए सफेद और गुलाबी रंग का प्रयोग शुभफलदायी माना जाता है.

सफेद रंग सादगी का प्रतीक है वहीं गुलाबी रंग प्रेम का प्रतीक है. विवाहित जोड़ों को सफेद रंग का प्रयोग होली में करना चाहिए ताकि उनके दाम्पत्य जीवन में स्नेह बना रहे, वहीं जन्मांक 6 वाले युवक-युवतियों को गुलाबी रंग का प्रयोग होली खेलने में करना चाहिए ताकि उनके रिश्तों में प्रेम और कोमलता बनी रहे.

जन्मतिथि — 7, 16, 25

जिन लोगों का जन्मांक 7 हो उन्हें इस साल होली में नारंगी रंग का प्रयोग करना चाहिए. नारंगी रंग लाल और पीले रंग से मिलकर बनता है लिहाजा इसमें ऊर्जा और सात्विकता दोनों होती हैं. ऐसे लोग जिनका जन्मांक 7 होता है उऩके जीवन में उतार चढ़ाव बने रहते हैं लेकिन ये लोग जिस काम में हाथ डालते हैं उसे पूरा करने के बाद ही रूकते हैं. होली में इस रंग के प्रयोग से आपके बुद्धि का विकास होगा, और जीवन में सरसता आयगी.

जन्मतिथि — 8, 17, 26

अंक 8 शनि का प्रतीक है. शनि को न्याय का देवता भी कहा जाता है. शनि देव को गहरा नीला रंग प्रिय है जिन जातकों का जन्मांक 8 हो उन्हें इस साल नीले रंग से होली खेलनी चाहिए. यह रंग व्यक्ति को शांति, विस्तार और विशालता देता है. जो लोग सांस संबधी परेशानियों से गुजर रहे हैं उन्हें नीले रंग का प्रयोग करना चाहिए. इस रंग के प्रयोग से घर में संपन्नता बनी रहती है.

अंक — 9, 18, 27

अंक नौ के अधिपति मंगल हैं. जनका रंग लाल होता है लाल रंग तेज और ऊर्जा से भरा होता है जो कि शक्ति् और पराक्रम का प्रतीक है, लाल रंग देवियों का भी प्रिय रंग हैं जिन जातकों का जन्मांक 9 हो उन्हें इस साल होली पर लाल रंग से होली खेलनी चाहिए. ये रंग जीवन में नया उत्साह और उमंग से आपको भर देगा, और एक नई ऊर्जा का आपमें संचार करेगा.ह्दय की क्षीणता को कम करेगा और भाई-बहन के स्नेह का बढ़ाएगा.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments