Fastivals February 2019 : फरवरी 2019 माह में यह प्रमुख व्रत, पर्व और त्योहार

hindu tyohar list 2018 in hindi,

(hindu festivals calendar 2018 in hindi festivals in the month of February vrat tyohar) साल 2019 के दूसरे माह फरवरी (February 2019 festival) में कई उत्सव, व्रत, पर्व और त्योहार हैं। हमें पहले से ही व्रत, पर्व और त्योहारों के बारे में जानकारी मिल जाए तो हम पहले से ही तैयारियां कर सकते हैं। इसके साथ ही हम अपने ईष्ठ देव की पूजन हम पूर्व विधि विधान से कर सकते हैं। कुछ इसी तरह की बातों को ध्यान में रखते हुए धर्म कथाएं डॉट कॉम  ( http://dharmakathayen.com ) आपको बताने जा रहा

Eclipse 2019 : सूर्य और चंद्र ग्रहण वाले इन दिनों में रहें सावधान, ये उपाय करें चुंबक की तरह खिंचा आएगा धन

नई दिल्ली. Solar eclipse 2019 सूर्य और चंद्रमा पर लगने वाले ग्रहण से हर बार कुछ रोमांचक जिज्ञासाएं लोगों के मन में बनी रहती हैं और जानने की जिज्ञासा बनी रहती है कि कैसा होगा, सूर्य sun grahan या चंद्रमा ग्रहण chandra grahan के दौरान कैसे दिखेंगे। हम पर कैसा असर होगा। यह बहुत लोगों को जानने का मन करता है। सूर्य ग्रहण हो तो इसके प्रति रोमांच-कौतूहल और बढ़ जाता है। यह इसलिए भी कि उजाले में होता है और दिन में होने से लोगों को देखने का रोमांच देखा

हिन्दू कैलेंडर के महीनों के नाम व उनका महत्व !! Hindu Calendar Months name Festivals

सनातन संस्कृति (sanatan dharma) में ही नहीं बल्की प्राचीन भारतीय जीवन से ही हम दिन, महीने (month calendar) , वार-त्योहार ( hindu tyohar list ) को देखने या मापने के लिए हिन्दू कैलेंडर पर ही भरोसा करते आए हैं और हमारे पूर्वज सटिक जानकारियों के लिए हिन्दू कैलेंडरों का ही उपयोग करते हुए आए हैं। हमारे देश में पंचांग के माध्यम से ही हिन्दू कैलेंडर का निर्माण किया गया है। जैसे- जैसे समय बदला विदेशी ताकतें हावी हुई तो देश के कुछ नासमझ लोग अंग्रेजी कैलेंडर को ही बहुत अधिक

वर्ष 2019 के पहले माह जनवरी के व्रत, त्योहार, एकादशी अमावस्या और 2 ग्रहण पहले महीने में

january 2019 calender / दोस्तों नया साल आ गया है। नए साल के शुभारंभ के बाद हम सभी अपने-अपने कामों में लग जाएंगे। लेकिन हमें साल के पहले दिन से ही ऐसी प्लानिंग करना होगी, जिससे पूरा साल खुशनुमा और बेहतरीन बीते। हिंदू शास्त्रों के अनुसार इस अंग्रेजी नव वर्ष के पहले दिन ही एक पवित्र माने जाने वाली एकादशी (Ekadshi)से हो रही है।यह त्रिदेवों के अंश की फलदायी होती हैं। इस दिन भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए व्रत करते हैं। साल की शुरुआत से ही बेहद शुभ

नवरात्रि के दौरान कर रहे हैं खरीदारी, तो इन बातों का रखें ध्यान, आपकी सभी मनोकामनाएं होंगी पूरी ..

नवरात्रि का पवित्र त्यौहार 10 अक्टूबर से आरंभ होने जा रहा है नवरात्रि के दिनों में माता दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है, नवरात्रि के 9 दिन माता के नौ रूपों को पूजा जाता है, सभी भक्त अपनी मनोकामनाएं पूरी करने के लिए इन 9 दिनों तक माता का व्रत रखते हैं और कलश की स्थापना करते हैं, विधि विधान पूर्वक माता की पूजा-अर्चना की जाती है बहुत से लोग ऐसे हैं जो माता के मंदिर में जाकर इनके दर्शन करते हैं, आप सभी लोग नवरात्रि के दिनों

नवरात्रि के दिनों में ये 6 राशियां रहेंगी भाग्यशाली, महालक्ष्मी होंगी मेहरबान, मिलेगा धन लाभ ..

व्यक्ति के जीवन में राशियों का बहुत महत्व होता है राशियों के आधार पर व्यक्ति के आने वाले समय के बारे में पता लगाया जा सकता है, यदि ग्रह नक्षत्रों में किसी प्रकार का कोई परिवर्तन होता है तो इसका प्रभाव सभी 12 राशियों पर कुछ ना कुछ अवश्य पड़ता है, अगर ग्रहों की स्थिति ठीक दशा में हो तो व्यक्ति को अपने जीवन में खुशियां ही खुशियां मिलती हैं परंतु ग्रहों की स्थिति ठीक दशा में ना हो तो व्यक्ति को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है समय के

नवरात्रों में करें यह 4 गुप्त काम, आपकी इच्छा होगी पूरी, बन जाएंगे बिगड़े काम ..

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि नवरात्रि का त्योहार बहुत ही जल्दी आने वाला है नवरात्रि का पवित्र त्यौहार 10 अक्टूबर से आरंभ होगा और नवरात्रि के पूरे 9 दिनों तक माता दुर्गा के नौ रूपों की अलग-अलग पूजा की जाती है जो भक्त अपने सच्चे मन से माता रानी की पूजा अर्चना करता है उसकी पुकार माता अवश्य सुनती है और उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी करती है, इस दुनिया में शायद ही कोई ऐसी मां होगी जो अपने बच्चे को दुख में देख पाती होगी माता रानी अपने

अनंत चतुर्दशी व्रत उद्यापन विधि, कथा, ऐसे करें भगवान विष्णु की पूजा

अनन्त चतुर्दशी का व्रत: दिनाँक 23/9/2018 दिन रविवार को अनन्त चतुर्दशी व्रत है। आईये जानें इस व्रत के बारे में। पंडित मनोज शुक्ला से। यह व्रत भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि को किया जाता है। इस व्रत में अनन्त के रूप में भगवान श्रीहरि विष्णु की पूजा होती है। अनन्त चतुर्दशी के दिन पुरुष दाहिने हाथ में तथा नारियाँ बाँये हाथ में अनन्त धारण करती हैं। अनन्त कपास या रेशम के धागे से बने होते हैं, जो कुंकमी रंग में रंगे जाते हैं तथा इनमें चौदह गाँठे होती हैं।

एकादशी व्रत करने से दूर हो जाते हैं सारे कष्ट…

हिन्दू धर्म में एकादशी व्रत की बहुत मान्यता है और शास्त्रों के अनुसार इस व्रत को करने से इंसान के सारे कष्ट दूर होते हैं. साथ ही सारे पापों से मुक्ति भी मिल जाती है.सभी धर्मों में व्रत-उपवास करने का महत्व बहुत होता है और हर व्रत के आने नियम कायदे भी होते हैं. खास कर हिंदू धर्म के अनुसार एकादशी व्रत करने की इच्छा रखने वाले मनुष्य को दशमी के दिन से ही कुछ अनिवार्य नियमों का पालन करना चाहिए. ऐसा करने से उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी होती हैं

बुध देता है मधुर वाणी साथ में होगी धन की बौछार, बस ये काम करें

वेद में एक वाक्य है कि वाणी की मधुरता से सहज ही सभी को मित्र और कर्कश वाणी से दुश्मन बनाया जा सकता है। विभिन्न वेदों और शास्त्रों में भी वाणी संयम को सर्वश्रेष्ठ तप कहा गया है। ऋग्वेद में कहा गया है, या ते जिव्हा मधुमति सुमेधाने देवेषूच्यत उरुचि। यानी, तू मीठी और सद्बुद्धि युक्त वाणी का प्रयोग कर, जिसे देव बोलते हैं। नीतिशास्त्र में कहा गया है, ‘झूठ बोलना, कटु बोलना, असंगत बात कहना, अहंकारयुक्त शब्द बोलना, निंदा करना आदि वाणी के ऐसे उद्वेग दोष हैं, जिनसे मनुष्य पग-पग

Top
error: Content is protected !!