तुला राशि में सूर्य गोचर के परिणाम, किसके जीवन में आएगी शुभता और किसको हो सकती है परेशानी?

जब सूर्य राशि परिवर्तन करता है, तो इसे सूर्य संक्रांति के नाम से जाना जाता है. 17 अक्टूबर को सूर्य शाम 06:44 बजे सूर्यदेव तुला राशि में प्रवेश करेंगे. चूंकि सूर्य एक राशि में एक महीने की अवधि तक गोचर करते हैं इसलिए ये इस बार 16 नवम्बर की शाम 06:32 तक यहीं रहेंगे. तुला राशि सूर्य की नीच राशि मानी जाती है अर्थात यहां जाकर वे कमजोर होंगे. अब राशिवार जाने:ज्योतिर्विद बब्बन कुमार सिंह 8989098404 मेष राशि: पांचवें के स्वामी सातवें में जा रहे हैं. यहां पंचमेश सप्तमेश को पीड़ित

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 18 अक्टूबर 2018 गुरूवार

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 18 अक्टूबर 2018 -गुरूवार -सूर्योदय 05:44:43 -सूर्यास्त 05:17:40 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -नवमी तिथि 14:02:09 परं दशवीं तिथि -श्रवण नक्षत्र 24:12:00 परं धनिष्ठा नक्षत्र -धृति योग 10:41:30 परं शूल योग -प्रथम कौलव करण 20:41 -द्वितिय तैतिल करण 53:20 -राहुकाल- 13:31 / 15:00 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :27शुभ -सूर्य- कन्या राशि -चन्द्र- मकर राशि (अहोरात्र) -तुलायांरवि 05:26 -सिद्धिदात्रीदेवीदर्शनं -महानवमी 9 व्रतं -त्रिशूलनीपूजा -पुण्यकालं 08:14 / 14:52 -सरस्वती विसर्जन -पंच्चकारंभः 24:12 -श्रवण में- भौमयुति -नवरात्रव्रतपारणा-आश्विनीमासः -नवरात्रि पर्व -सिद्धिदात्रीदेवीदर्शनं -नवमी बलिपूजनं -(नवम्यां उग्रचण्डायाः पूजांकुर्याद् बलिं) *नवरात्रि महापर्व*➖ 〰〰〰〰 *प्रार्थना➖* *सृष्टौ या सर्गरूपा जगदवनविधौ पालनी या च रौद्री,* *संहारे चापि यस्या जगदिदमखिलं क्रीडनं या पराख्या।* *पश्यन्ती मध्यमाथो तदनु भगवती वैखरी वर्णरूपा,* *सास्मद्वाचं प्रसन्ना विधिहरिगिरिशाराधितालकंरोतु।।* *अर्थात्➖* जगत् के सृष्टी कार्य में जो उत्पत्तिरूपा,रक्षाकार्य मैं पालनशक्तिरूपा, संहारकार्य में रौद्ररूपा हैं,सम्पूर्ण

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 17 अक्टूबर 2018 बुधवार

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 17 अक्टूबर 2018 -बुधवार -सूर्योदय 05:44:23 -सूर्यास्त 05:18:27 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -अष्टमी तिथि 11:55:29 परं नवमी तिथि -उत्तराषाढ़ा नक्षत्र 21:34:57 परं श्रवण नक्षत्र -सुकर्मा योग 10:08:06 परं धृति योग -प्रथम बव करण 15:08 -द्वितिय बालव करण 48:03 -राहुकाल- 12:00 / 13:30 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :28 ❎अशुभ -सूर्य- कन्या राशि -चन्द्र- मकर राशि (अहोरात्र)-श्रीदुर्गाष्टमी 8 व्रतं -महाष्टमी व्रतं -महागौरीदेवीदर्शनं -सिद्धिदात्रीपूजनं -श्रीसरस्वती बलिदानं - हवनाष्टमी 8 -अन्नपूर्णा परिक्रमा (11:55 यावत्) -आश्विनीमासः -नवरात्रि पर्व -महागौरीदेवीदर्शनं -महागौरीपूजनं -नवमी बलिपूजनं *नवरात्रि महापर्व*➖ 〰〰〰〰 या देवि! सर्वभूतेषु! -नवरात्रि महापर्व, शक्ति आराधना, उपासना, साधना, का पर्व है ।इन्द्रियों के संयमन एवं आसुरी प्रवत्तियों पर नियंत्रण का यह पर्व है। दुर्गादेवी की दिव्य शक्तियां समस्त विश्व में , समस्त सृष्टि में, समस्त ब्रह्माण्ड

टैरो राशिफल, 17 अक्टूबर 2018: कन्या राशि वालों आपको उत्त्साह और ऊर्जा मिलेगी, कुम्भ वाले आप आज नए कार्य भी शुरू कर सकते हैं

 टैरो कार्ड रीडर भूमिका कलम ( Watsaap no. - 8240999270)  मेष Queen of Pentacles आज आप खुदको जड़ों से जुडा हुआ महसूस करेंगे|पुरानी शानदार यादों से भरा दिन आपको ऊर्जा से भरदेगा| लकी कलर – महरून, लकी नंबर – 5 वृष Page of Swords आज का दिन रचनात्मकता से भरा होगा। नएआइडिया और उसको करने की ऊर्जा से भरे होंगें आप। लकी कलर – बैंगनी,लकी नंबर – 4मिथुन Eight of Wands आज का दिन बेहद प्रगतिशील होगा, सफलता निश्चितहै। आज यात्रा होगी या आने वाले समय में होने वालीयात्रा की योजना बन सकती है। लकी कलर – पीला, लकी नंबर –

जय वीर हनुमान : मंगलवार का पंचांग, दिनांक 16 अक्टूबर 2018 का सूर्यसिद्धान्तीय सूर्य पंचांग

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 16 अक्टूबर 2018 -मंगलवार -सूर्योदय 05:44:03 -सूर्यास्त 05:19:15 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -सप्तमी तिथि 10:00:33 परं अष्टमी तिथि -पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र 19:04:33 परं उत्तराषाढ़ा नक्षत्र -अतिगंड योग 09:43:06 परं सुकर्मा योग -प्रथम वणिज करण 10:41 -द्वितिय विष्टी करण 43:00 -राहुकाल-15:31 / 17:01 अशुभ -अभिजीत 11:42/ 12 :28 शुभ -सूर्य- कन्या राशि -चन्द्र- धनु राशि 25:41:05 परं मकर राशि -भद्रकाली दुर्गा जयंती -कालरात्रिदेवीदर्शनं -रात्रि महानाशापूजाबलिदानादिकश्च -अन्नपूर्णा परिक्रमा 10:00उ -भद्रारंभः 10:00 -भद्रान्तः 22:56 -पत्रिकाप्वेशनं -सप्तम्यां प्रातरानीय गृहमध्ये प्रपूजयेत -दग्धतिथि 10:00 उ -पूर्वाषाढ़ा में- भद्रापूर्व यंत्रशस्त्रघटन मुहूर्त-आश्विनीमासः -नवरात्रि पर्व -कालरात्रिदेवीदर्शनम् -महानिशापूजनं ( रात्रि) -विश्व खाद्य दिवस *नवरात्रि महापर्व*➖ 〰〰〰〰 या देवि! सर्वभूतेषु! -नवरात्रि महापर्व, शक्ति आराधना, उपासना, साधना, का पर्व है ।इन्द्रियों के संयमन एवं आसुरी प्रवत्तियों पर नियंत्रण का

सास-बहू की कुंडली मिलान कब करें…

इन दिनों गूगल पर एक अलग ही बात लोग खोजने में लगे हुए हैं। यह है सास-बहू की कुंडली मिलान की सर्चिंग। सदियों से हमारे देश ही नहीं विदेशों में भी सास-बहू के बीच कुछ खटपट होती रही हैं। लेकिन ऐसा कभी सुनने में नहीं आया हो कि कोई सास बहू ने अपनी कुंडली मिलान करवाई हो। लेकिन इस नए जमाने में यह बातें देखने को मिल रही हैं। सास बहू की कुंडली देखने में सिर्फ यह देखा जा सकता है कि कोई विवाद होगा या नहीं। अगर विवाद या

नवरात्रि 2018 : इस नवरात्रि नहीं करेंगे भूलकर भी ये गलतियां तो मां भर देंगी खुशियों से झोली

पराशर ज्योतिष संस्थान : ज्योतिर्विद बब्बन कुमार सिंह 8989098404 14-20 अक्टूबर का साप्ताहिक राशिफल मेष राशि >>>>>> धनागम के लिए भी अच्छा समय. करियर व व्यापार के लिए भी उत्तम समय. कुछ लोगों के लिए विदेश यात्रा की संभावना. काम से संबंधित बाहर की यात्रा करने का भी उत्तम समय. सोच-विचार कर निवेश के लिए भी अच्छा समय. दफ्तर में कनिष्ट सहयोगियों से तनाव के योग. अभी से ध्यान दें. योजनागत व परिश्रम से युक्त जातकों के लिए शैक्षिक व तकनीक मामलों में उम्मीदों से कहीं बेहतर समय. संतान के लिए भी अच्छा

मां लक्ष्मी इस सप्ताह इन राशियों पर बरसाएंगी असीम कृपा, जानिए आपकी राशि तो नहीं…

ज्योर्तिविद पं. संजय शर्मा   ज्योतिष लेखक, ज्योतिष एवं वास्तु परामर्ष , रत्न विशेषज्ञ , प्रेरक (मोटीवेटर) , कलर थेरेपिस्ट एवं औरा रीडर, 11, न्यू एम.आई.जी. मुखर्जी नगर, एम.आर. 8, टेलीफोन ऑफिस के समने, देवास म.प्र. 455001साप्ताहिक भविष्यफल: दिनांक 14 अक्टोबर 2018 से 20 अक्टोबर 2018 मेष - किसी वस्तु के न मिलने से मानसिक कष्ट रहेगा ,वाहन आदि का प्रयोग सावधानी से करें। धर्म कर्म में रूचि जागृत होगी, प्रतियोगिता में सफलता, यात्रा करना पड सकती है । ये यात्रा धर्मिक भी हो सकती है एवं यात्रा लाभदायक भी सिद्ध होंगी सप्ताह आरंभ में धन प्राप्ती की उत्तम संभवनाये है

ज्योतिष में कम्प्यूटर का उपयोग

weekly horoscope

आज के समय में ज्योतिष में कम्प्यूटर का उपयोग बहुत अधिक होने लगा हैं। आज हर छोटे से छोटे पंडित जी ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भविष्य बताने के लिए कम्प्यूटर से बनी हुई कुंडली का उपयोग करने लगे हैं। दरअसल इससे पहले कोई भी ज्योतिष या पंडित कुंडली अपने हाथ से ही बनाते थे। हालांकि इससे समय बहुत अधिक लग जाता था। आज के समय में एक पंडित 2 मिनट में कम्प्यूटर से निकली हुई कुंडली से लोगों का भविष्य बताते हैं। कुंडली को निकालना भी बहुत आसान हैं। कम्प्यूटर

आज रविवार का सूर्यसिद्धान्तीय सूर्य पंचांग : दिनांक 14 अक्टूबर 2018

shubh muhurat and puja vidhi of surya uttarayan 2018 for india in hindi,

जय श्रीराधेकृष्ण!-सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर)-दिनांक 14 अक्टूबर 2018 -रविवार -सूर्योदय 05:4325 -सूर्यास्त 05:20:52 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -पंचमी तिथि 07:14:08 परं षष्ठी तिथि -ज्येष्ठा नक्षत्र 14:57:07 परं मूल नक्षत्र -सौभाग्य योग 09:40:46 परं शोभन योग -प्रथम बालव करण 03:47 -द्वितिय कौलव करण 35:06 -राहुकाल- 17:01 / 18:30 अशुभ -अभिजीत 11:42/ 12 :29 शुभ -सूर्य- कन्या राशि -चन्द्र- वृश्चिक राशि 14:57:07 परं धनुराशि- स्कन्दमातादर्शनं - पंचम दिवस -ललिता पंचमी (उदया तिथि) -उपांग ललिता 5 वीं व्रतं ( महाराष्ट्रे) -पंचमी व्रतं ( वैष्णव निम्बार्क तीर्थे ) -अमृतयोग 07:13 या -मूलेसरस्वत्यावहनं -पूर्वाषाढ़ेकेतुः 45:58 -गण्डान्तः 8:33- 21:23 -ज्येष्ठा में राहुवेध।-आश्विनीमासः -नवरात्रि पर्व -स्कन्दमातादर्शनम्नवरात्रि महापर्व➖या देवि! सर्वभूतेषु! -नवरात्रि महापर्व, शक्ति आराधना, उपासना, साधना, का पर्व है ।इन्द्रियों के संयमन एवं आसुरी प्रवत्तियों पर

Top
error: Content is protected !!