Home ज्योतिष 5 ग्रहों के फेरबदल वाला रहेगा अप्रैल का महीना, जानें आप पर...

5 ग्रहों के फेरबदल वाला रहेगा अप्रैल का महीना, जानें आप पर इसका असर…

ज्योतिष की दृष्टि से वर्ष 2021 काफी महत्वपूर्ण रहने वाला है। अब आने वाला अप्रैल का महीना ज्योतिष और ग्रहों की दृष्टि से बहुत ही खास रहने वाला है (Transits Of Planets) इस महीने में गुरु शुक्र बुध मंगल और सूर्य अपनी राशि परिवर्तन करेंगे। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि इसके साथ ही शनि अपनी मकर राशि में, राहु वृषभ राशि में और केतु वृश्चिक राशि में गोचर करते हुए सभी राशियों को प्रभावित करेंगे। चंद्रमा हर सवा 2 दिन के बाद अपनी चाल बदलते रहते हैं। वैदिक ज्योतिष के सिद्धांत के अनुसार मनुष्य के जीवन में जो भी घटनाएं घटित होती हैं। (Transits Of Planets) उनका कारण ग्रहीय दशा, गोचर, उनकी चाल है। सौरमंडल में बैठे ग्रह ही यह निर्धारित करते हैं कि आने वाला समय कैसा होगा और मनुष्य जीवन पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा। अप्रैल का महीना ग्रहों के लिहाज से भारी फेरबदल वाला साबित होगा। ज्योतिषीय गणना और पंचांग के अनुसार अप्रैल के महीने में गुरु शुक्र बुध मंगल और सूर्य की स्थितियों में बदलाव होगा।
falgun ekadashi 2021 vijaya ekadashi 2021 vrat vidhi

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि ग्रहों के राजकुमार बुध 1 अप्रैल को मीन राशि में, देवगुरु बृहस्पति 6 अप्रैल को कुंभ राशि में, मृत संजीवनी के मालिक शुक्र 10 अप्रैल को मेष राशि में, सेनापति मंगल 14 अप्रैल को मिथुन राशि में और ग्रहों के राजा सूर्य 14 अप्रैल को मेष राशि में प्रवेश करेंगे। भारतीय ज्योतिष के मुताबिक ग्रह नक्षत्रों का हमारे जीवन पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है। (Transits Of Planets) हर ग्रह राशि के अनुसार व्यक्ति के जीवन पर असर डालता है और ऐसे में किसी भी ग्रह का राशि परिवर्तन संबंधित राशि के जातक पर भी अच्छा या बुरा असर डालता है। गौरतलब है कि सूर्य, केतु, राहु से लेकर बुध तक सभी ग्रह अपनी चाल बदलते हैं। अप्रैल 2021 में कुल पांच ग्रह राशि परिवर्तन करने वाले हैं

anish vyas astrologer
अनीष व्यास, विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक, पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर 9460872809

बुध का मीन राशि में गोचर (Transits Of Planets)

विख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि ग्रहों के राजकुमार बुध का 1 अप्रैल को मीन राशि में गोचर होगा। बुध ग्रह को बुद्धि का कारक माना जाता है। जिन जातकों का बुध ग्रह प्रबल होता है, ऐसे लोगों बौद्धिक कार्य में ज्यादा रूचि दिखाते हैं। अप्रैल में बुध ग्रह के राशि परिवर्तन के कारण सभी 12 राशि के जातकों का भविष्य प्रभावित होगा।

यहां दबाकर धर्म कथाएं का मोबाइल एप डाउनलोड करें

बृहस्पति का राशि परिवर्तन

बृहस्पति का राशि परिवर्तन 6 अप्रैल 2021 को होगा। गुरु अप्रैल में कुंभ राशि में गोचर करेंगे। भारतीय ज्योतिष के मुताबिक बृहस्पति ग्रह भी जातकों की राशियों का अत्यधिक प्रभावित करता है। गुरु ग्रह इस साल 3 बार अपनी चाल में परिवर्तन करेंगे।

शुक्र ग्रह का मेष राशि में गोचर(Transits Of Planets)

शुक्र का राशि परिवर्तन 10 अप्रैल को होगा। शुक्र ग्रह मेष राशि में गोचर करेंगे। शुक्र ग्रह अप्रैल 2021 में राशि परिवर्तन कर सभी राशियों को शुभ-अशुभ परिणाम देंगे।

daily horoscope 9 march 2021 panchang rashifal, aaj ka rashifal, mangalwar ka rashifal in hindi

मंगल ग्रह का मिथुन राशि में गोचर

विख्यात कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि सेनापति मंगल 14 अप्रैल को मिथुन राशि में गोचर होगा। मंगल ग्रह को ऊर्जा का कारक माना जाता है। मंगल ग्रह हर डेढ़ माह में अपनी राशि परिवर्तन करते हैं।

सूर्य का मेष राशि में गोचर

सूर्य 14 अप्रैल 2021 को मेष राशि में गोचर करेंगे। मेष राशि वालों के लिए सूर्य का राशि परिवर्तन खास है। इस दौरान मेष राशि वालों को मिले-जुले परिणाम प्राप्त होंगे। सूर्य को सभी ग्रहों का स्वामी माना जाता है। सूर्य के राशि परिवर्तन से सभी जातकों की राशि पर असर पड़ता है।

Read More : क्यों मशहूर है मेहंदीपुर बालाजी का धाम, जानिए मंदिर का इतिहास और महत्व

शनिदेव मकर राशि में ही रहेंगे विराजमान

विख्यात भविष्यवक्ता अनीष व्यास ने बताया कि न्याय देवता कहे जाने वाले शनि इस साल 2021 में कोई राशि परिवर्तन नहीं करेंगे। इस वर्ष मकर राशि में ही विराजमान रहेंगे। शनिदेव को कर्म का देवता माना जाता है। शनि जातक के कर्म के हिसाब से फल देते हैं।

ग्रहों के गोचर का प्रभाव (Transits Of Planets)

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि अप्रैल में ग्रहों की जो स्थिति बनने जा रही है वह बड़े परिवर्तनों की ओर इशारा कर रही है। गुरु शुक्र बुध मंगल और सूर्य के राशि परिवर्तन से व्यापार में तेजी आएगी। बीमारियों में कमी आएगी। रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। आय में इजाफा होगा। प्राकृतिक घटनाएं होगी। भूकंप आने की संभावना है। राजनीति में बड़े स्तर पर परिवर्तन देखने को मिलेगा। इसका प्रभाव राज्य, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय दोनों ही स्तर पर देखा जाएगा।

राजस्थान पर असर rajasthan politics

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि 5 बड़े ग्रहों के परिवर्तन से राजस्थान की राजनीति में हलचल दिखाई देगी। साथ ही फेरबदल की संभावना बनेगी। जन आंदोलन या जनाक्रोश होगा। कोरोना महामारी के संक्रमण में कमी आयेगी। व्यापारिक गतिविधियां बढ़ेगी। जनजीवन धीरे-धीरे सामान्य होगा। सोने चांदी के भाव में तेजी रहेगी। कोई अप्रिय घटना होने की संभावना बन रही है।

क्या करें उपाय

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि हं हनुमते नमः, ऊॅ नमः शिवाय, हं पवननंदनाय स्वाहा का जाप करें। ईश्वर की आराधना संपूर्ण दोषों को नष्ट एवं दूर करती है। महामृत्युंजय मंत्र और दुर्गा सप्तशती पाठ करना चाहिए। माता दुर्गा, भगवान शिव विष्णु लक्ष्मीनारायण और हनुमानजी की आराधना करनी चाहिए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments