चमत्कारिक हनुमान मंदिर की सच्ची कहानी, मोहास मंदिर का प्रसाद खाने से जुड़ जाती हैं टूटी हड्डियां

chamatkari hanuman ji mandir mohash rithi katni mp, amazing broken bones in an instant tend to add

(HANUMAN MANDIR MOHAS KATNI HADDI JODNE WALE HANUMAN)

कटनी (KATNI ). संकट मोचन भगवान हनुमानजी के चमत्कार तो कई सुनने में आए है, लेकिन मध्यप्रदेश के कटनी के पास हनुमानजी के मंदिर की एक सच्ची दास्तां आपको भी चौंका देगी। जिस मर्ज का इलाज डॉक्टर नहीं कर पाते हैं, वो दर्द हनुमानजी एक घंटे में खत्म कर देते है। शरीर का कोई दर्द हो या फिर किसी टूटी हड्डी को जोडऩा हो। जी हां, मप्र के कटनी जिले की रीठी तहसील के ग्राम मोहास में चमत्कारी हनुमान जी का मंदिर है।



यहां कई भक्त रोजाना अपना दर्द लेकर आते हैं और भगवान संकट मोचन कुछ ही देर में सारा दर्द दूर कर देते हैं। यह सच्ची कथा आपको यहां के हर श्रद्धालु से सुनने को मिल सकती है।

रामायण की सच्ची दास्तां आज भी आंखों के सामने(after the ramayana hanuman life)

रामायण की सच्ची दास्तां आज भी हर एक भक्त की आंखों के सामने आ जाती है, जब वे भगवान हनुमानजी के इस चमत्कार को देखते हैं। यहां सिर्फ एक बार भगवान हनुमान जी के दर्शन करने से सारे संकट दूर हो जाते है।



जिस तरह त्रेता युग में भगवान राम के छोटे भाई भगवान लक्ष्मण के लिए हनुमानजी संजीवनी बूटी लाए थे, उसी प्रकार यहां भी भक्तों के संकट दूर करते हैं।

सच्ची धार्मिक कहानियां पढऩे के लिए फेसबुक पेज लाइक करें-  https://www.facebook.com/DharmKathayen/

पुजारी देते हैं यह एक औषधि (MOHAS KATNI HADDI JODNE WALE HANUMAN)

इस मंदिर के पुजारी सरमन पटेल बताते हैं कि भक्तों को यहां पहुंचने के बाद राम नाम जाप करने के लिए कहा जाता है। इसके बाद भक्त आंखें बंद कर लेते हैं।

 

chamatkari hanuman ji mandir mohash rithi katni mp, amazing broken bones in an instant tend to add

इस दौरान पंडित एक औषधि देते हैं, जिसे भक्त भगवान का नाम लेकर खाते हैं। पत्तियों और जड़ रूपी इस औषधि को खूब चबाने की सलाह दी जाती है। पुजारी सरमन पटेल कहते है कि इस पत्ती को खाने और भगवान हनुमान के चमत्कार से हड्डी अपने आप जुड़ जाती हैं। यहां हर मंगलवार और शनिवार को मेला लगता हैं।

यह भी पढ़ें:- खैराबादधाम में आस्था और अनुष्ठान का इकलौता अष्टकोणीय श्रीफलौदी माता मंदिर


एक बार दर्शन से जुड़ती है हड्डी (chamatkari hanuman ji mandir mohash rithi)

भगवान हनुमान के दरबार में एक बार दर्शन से टूटी हड्डी जुड़ जाती हैं। हनुमान जी के दारबार से कोई भक्त खाली हाथ नहीं लौटा है। श्रद्धालू रमेश शर्मा का कहना है कि मेरे दोस्त की दुर्घटना में हड्डी टूट गई थी, जिसके बाद हमें यहां के बारे में पता लगा तो यहां चमत्कारी असर हुआ। डॉक्टर महिनों में जो काम नहीं कर पा रहे थे, वो असर यहां कुछ ही समय में हुआ।



whatsapp पर रोज एक सच्ची धार्मिक कहानी पढऩे के लिए हमारे नंबर 8224954801 को dharma kathayen के नाम से सेव करें। इसके बाद हमारे नंबर पर start लिखकर whatsapp कर दें…

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!