धर्म ही मनुष्य को सन्मार्ग और कुमार्ग की कराता है पहचान

ramayan pratiyogita cg in hindi

धमतरी. प्रदेश की महिला एवं बाल विकास एवं समाज कल्याण मंत्री और जिले की प्रभारी मंत्री श्रीमती रमशीला साहू ने शनिवार जिले के धमतरी विकासखण्ड के ग्राम कण्डेल और भानपुरी में आयोजित धार्मिक कार्यक्रम में सम्मिलित हुईं। इस दौरान उन्होंने समाज के प्रबुद्धजनों और ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि नारी सशक्तिकरण और बेटियों को प्रोत्साहित कर समाज में सम्मान दिलाने के लिए प्रोत्साहित करने का आव्हान किया।

केबिनेट मंत्री शनिवार दोपहर ग्राम गागरा (कण्डेल) में आयोजित रामायण प्रतियोगिता में सम्मिलित हुईं तथा ग्रामीणों से भेंट की। इस अवसर पर उन्होंने ग्राम की महिला मण्डल को पांच-पांच हजार रूपए की अनुदान राशि विधायक निधि से देने की घोषणा की। साथ ही ग्रामीणों की अन्य मांगों पर सकारात्मक विचार करने का आश्वासन दिया। इसके उपरांत ग्राम भानपुरी (खपरी मंे आयोजित) गायत्री महायज्ञ में शामिल होकर उपस्थित लोगों को संबोधित किया।



इस दौरान उन्होंने कहा कि आज समाज को धर्म और संस्कार से गहराई से जुड़कर नैतिक मूल्यांकन करने की आवश्यकता है, क्योंकि धर्म ही मनुष्य को सन्मार्ग और कुमार्ग की पहचान कराता है। उन्होंने आगे कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में योजनाओं के माध्यम से महिलाओं और बेटियों को नवजीवन मिला है। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाकर उन्हें समाज में सम्मानजनक स्थान दिलाना सरकार का लक्ष्य है। इसी तरह बेटियां एक साथ कई दायित्वों व भूमिकाओं का निर्वहन करती हैं। उन्होंने बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ का नारा बुलंद करते हुए कुपोषणमुक्त स्वस्थ और स्वच्छ समाज निर्मित करने की अपील की।



इस अवसर पर राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती हर्षिता पाण्डेय, राज्य निःशक्तजन वित्त आयोग की अध्यक्ष श्रीमती सरला जैन, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री रघुनदंन साहू, महिला आयोग की सदस्य श्रीमती खिलेश्वरी किरण, जनपद पंचायत धमतरी की अध्यक्ष श्रीमती रंजना साहू, पूर्व विधायक श्री इंदर चोपड़ा सहित वरिष्ठ जनप्रतिनिधिगण और समाज के प्रबुद्धजन और काफी संख्या में महिलाएं मौजूद थीं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top
error: Content is protected !!