राजस्थान में भी मंदिरों में जाएंगे राहुल गांधी, क्या हिंदू वोटर होंगे प्रभावित, बीजेपी को मात देने की यह है तैयारी

Rahul-temple-photo

congress president rahul gandhi to continue temple run rajasthan assembly election and karnataka assembly elections 2018 in hindi

जयपुर. कांग्रेंस के अध्यक्ष राहुल गांधी अब गुजरात चुनाव का फार्मुला राजस्थान चुनाव में भी अपनाने के मूड में हैं। जिस तरह राहुल गांधी ने गुजरात में चुनाव प्रचार के दौरान सॉफ्ट हिंदूत्व की ओर रुख करके कई मंदिरों में दर्शन किए उसी तरह राजस्थान में भी रणनीति अपनाने की प्लानिंग हो रही है।
कांग्रेस का मानना हैं कि राहुल गांधी का मंदिर दर्शन की पॉलिटिक्स को जनता ने खूब पसंद किया था। राजस्थान में इसी साल चुनाव होने वाले हैं। ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी ने राजस्थान और कर्नाटक समेत कई राज्यों की पर्यटन और धार्मिक महत्व की जगहों की सूची राज्य कांग्रेस कमेटी से मांगी गई हैं।
गौरतलब हैं कि राहुल गांधी गुजरात में चुनाव प्रचार के समय 27 मंदिरों में दर्शन करने पहुंचे थे। मंदिर वाले क्षेत्रों में ही चुनावी रैलियां भी की गई थीं।



गुजरात में करीब 87 सीटों के मतदाता मंदिरों से प्रभावित माने जाते हैं। इनमें से कांग्रेस को 47 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। वहीं राजस्थान विधानसभा की बात करें तो वहां कुल 200 सीटें हैं, जिनमें 163 पर बीजेपी काबिज है और 21 कांग्रेस के हाथ में हैं।

राजस्थान में यह हैं बड़े मंदिर 

राजस्थान के बड़े मंदिरों में चित्तौडग़ढ़ के सांवलियाजी, राजसमंद के चारभुजाजी, नाथद्वारा में श्रीनाथजी, पुष्कर के ब्रह्ममंदिर, बांसवाड़ा के त्रिपुरा सुंदरी, करौली में मदनमोहनजी, कैलादेवी, सालासार बालाजी, बीकानेर जिले के जंभेश्वर मंदिर, देशनोक करणी माता, अलवर जिले के भृर्हतरी मंदिर और जयपुर के गोविंददेवजी मंदिर शामिल हैं। राजस्थान के बड़े-बड़े मंदिरों में कांग्रेस नेता जाएंगे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top
error: Content is protected !!