श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर करें यह टोटके, 1 मोर पंख मां लक्ष्मी को चुंबक की तरह खींच लाएगा आपके घर!

morpankh ke chamatkari totke

 

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व इस साल 14 और 15 अगस्त को मनाया जा रहा हैं। इस दिन भगवान श्री कृष्ण का जन्म रोहिणी लक्षत्र में हुआ था। जन्माष्टमी पर्व देश ही नहीं विदेशों में भी मनाया जाता है। इस दिन पूजन-अर्चन करने से भगवान श्रीकृष्णा प्रसन्न होते हैं। शास्त्रों में लिखा हैं कि भगवान श्रीकृष्ण भगवान विष्णु का अवतार थे। इसलिए भगवान श्रीकृष्ण की पूजन से माता लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं।
श्रीकृष्ण को अपने श्रृंगार में मोर पंख सबसे ज्यादा पसंद हैं, मोर पंख चढ़ाने वाले भक्तों पर कृपा बरसाते हैं। इसलिए भगवान श्री कृष्ण के प्रिय मोर पंख को 9 ग्रहों का प्रतिनिधि भी कहा जाता हैं। जन्माष्टमी की रात्रि को मोर पंखों के कुछ आसान उपाय व टोटके करने से सभी परेशानियों का निराकरण होता हैं तो वहीं माता लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं।

सच्ची धार्मिक कहानियां पढऩे के लिए फेसबुक पेज लाइक करें-  https://www.facebook.com/DharmKathayen/

ज्योतिषियों का कहना हैं कि कृष्णा भगवान को प्रसन्न करने के लिए मोर पंख से जुड़े कुछ आसान उपाय करने से सारी समस्याएं हल हो जाती हैं।

यह करें मोर पंख के आसान उपाय
-जन्माष्टमी की रात्रि में कृष्ण मंदिर में भगवान के मुकुट पर मोर पंख से सजावट कर दें।

यह भी पढ़ें:- क्यों और कैसे मनायें कृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार? और कैसे प्रसन्न करें भगवान श्री कृष्ण को!

-सजावट के करीब 40 दिन पूरे होने के बाद मोर पंख को वापस ले आएं। इस मोर पंख को अपने रुपए-पैसे रखने की जगह पर रख दें। इससे आपकी आर्थिक स्थिति में चमत्कारिक बदलाव आएगा।

यह भी पढ़ें:- Krishna janmashtami 2017: श्री कृष्ण की 1 पूजा से पूरी होगी मनोकामना, बरसेगी लक्ष्मी

-भगवान श्री कृष्ण के किसी भी मंदिर में एक मोर पंख पर अपने शत्रु या आपका बुरा करने वाले का नाम लिखकर रख दें, वह भी आपका मित्र बन जाएगा। इसके साथ ही अगले दिन सुबह बगैर नहाए व किसी से बिना कोई बात किए उसी मोर पंख को बहते पानी में भगवान कृष्ण का नाम लेकर बहा दें। अगर जल में नहीं बहा पाएं तो मोर पंख को किसी पेड़ के नीचे दबा दीजिए। इससे शत्रु का भय खत्म होगा और वह मित्र बन जाएगा। आपकी तरक्की का साथी बन जाएगा।

how to celebrate sri krishna janmashtami at home

 

-जन्माष्टमी की रात्रि को भगवान श्रीकृष्ण की प्रार्थना करते हुए अपने सोने की जगह पर 11 मोर पंख से बना हुआ पंखा पश्चिमी दीवार पर टांग दें, दिन में करीब 1 बार इस पंखे से स्वयं को हवा कर दें, इससे भाग्य हमेशा साथ देगा। कोई परेशानी आपके आसपास भी नहीं भटकेगी।

-जन्माष्टमी की रात्रि में तकिए के नीचे सात मोर रखने का टोटका करें। इस टोटके से जन्मकुंडली में कालसर्प दोष है तो इसका असर खत्म हो जाएगा और भगवान श्रीकृष्ण की कृपा बरसेगी।

 

whatsapp पर रोज एक सच्ची धार्मिक कहानी पढऩे के लिए हमारे नंबर 8224954801 को dharma kathayen के नाम से सेव करें। इसके बाद हमारे नंबर पर start लिखकर whatsapp कर दें…

Top
error: Content is protected !!