खुश रहना भी है ग्रहों का संयोग

hindu mantra for love and happiness

इंसान की खुशी का का मापदण्ड अलग अलग होता है .. किसी को महंगी चीजों से खुशी मिलती है, किसी को घूम फिर कर, तो किसी को दूसरों की मदद कर खुशी मिलती है. मतलब ये कि हर एक की खुशी का पैमाना अलग है. एक बात तय है कि खुशी का ताल्लुक दिल से है. यदि हम अपने अंदर झांक कर देखें तो खुशियां अवश्य मिल जाएगी। खुश रहने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है नकारात्मक सोच को दूर करके सकारात्मक विचारों को अपने पास रखें। सकारात्मक विचारों से हमें एनर्जी मिलती है। इससे हम अपनी समस्याओं से निपट सकते हैं और जब समस्याएं नहीं होंगी तो खुशियां आएंगी। हम दूसरों से अधिकाधिक अपेक्षाएं रखते हैं और चाहते हैं कि वह हमारी अपेक्षाओं पर खरा उतरे और न उतरने पर दुखी हो जाते हैं। यदि आप दूसरों से अपेक्षा न रखने की आदत को अपनाएंगे तो खुशियां पाएंगे। अपेक्षाएं खुशियों की दुश्मन होती हैं। हम जिंदगी की बडी खुशियों के चक्कर मे छोटी- छोटी खुशियों को खो देते हैं। अपने जीवन में खुशियों के छोटे-छोटे पल खोजकर उन्हें सहेज के रखें।



     ज्योतिषीय गणना अर्थात् आपके ग्रहों की स्थिति बताती है कि आपके जीवन में कहा क्या कमी रह जाती है, जो कि आपके जीवन में खुशिया कम कर रही है तो देखें कि क्या आपके दैनिक जीवन की गड़बड़िया आपको परेशान कर आपको खुश रहने नहीं दे रही तो इसके लिए आपको अपने जीवन में एकादश स्थान को अनुकूल और मजबूत करने की आवश्यकता होगी। इसी प्रकार लोगों से अपेक्षओें को कम करने के लिए आपकी कुंडली के तीसरे स्थान को मजबूत करना होगा। समस्याओं से बचकर निकलने के लिए छठवे, आठवे और बारहवे स्थान की स्थिति और ग्रह गोचर पर नियंत्रण रखकर उचित समय पर उचित उपाय लेना चाहिए।



सकारात्मक रहने के लिए भाग्य और लग्नेश को अनुकूल करने का प्रयास करना चाहिए। समय के सदुपयोग के लिए भी पंचम के ग्रहों का अनुकूल करने का प्रयास करना भी आपके जीवन में खुशी देगा। इस प्रकार जिस तरीके से व्यवहारिक जीवन में संपूर्ण समाधान की आवश्यकता होती है, उसी के अनुसार ज्योतिष में भी ग्रहों की अनुकूलता, ग्रह गोचर की मजबूत स्थिति और आपके जन्मांग के ग्रहों का सकारात्मक प्रभाव आपको जीवन में खुशी और उससे सफलता जरूर दिला सकती है… खुश रहने के लिए आप बड़ो का आशीर्वाद लें.. एकादशी का व्रत करें… गाय को भीगा गेहूं खिलाये… गुरु का मन्त्र ॐ नमो भगवते वासुदेवाय का जाप करें…

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!