भारतीय समाज में लोकतंत्र ने भरे आस्था और विश्वास के नये रंग: डॉ. रमन सिंह

cm raman singh

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह कल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर जनता को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है। डॉ. सिंह ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी शुभकामना संदेश में कहा है कि 15 अगस्त 1947 को आजादी के बाद आज ही के दिन वर्ष 1950 में पूरे देश में हमारे महान भारतीय संविधान की स्थापना हुई, जिसकी बुनियाद पर भारत को दुनिया के महान लोकतंत्र के रूप में पहचान और प्रतिष्ठा मिली है।

सच्ची धार्मिक कहानियां पढऩे के लिए फेसबुक पेज लाइक करें-  https://www.facebook.com/DharmKathayen/

 

मुख्यमंत्री ने कहा – आजादी के लिए लम्बे संघर्षों में जिन सेनानियों और महान विभूतियों ने अपना पूरा जीवन न्यौछावर कर दिया, यह उनकी ही कठिन तपस्या का परिणाम है कि आज हम लोकतंत्र की खुली हवा में सांस ले रहे हैं। डॉ. रमन सिंह ने कहा -हमें इस बात का गर्व है कि विविधता में एकता पर आधारित हमारे भारतीय समाज में लोकतंत्र ने आस्था और विश्वास के नये रंग भरे हैं। उन्होंने कहा – हालांकि आज हमारे लोकतंत्र के सामने नक्सलवाद और आतंकवाद जैसी गंभीर चुनौतियां भी है, लेकिन जनता की ताकत के बल पर बहुत जल्द देश को नक्सलवाद और आतंकवाद से मुक्ति दिलाने में हमारा लोकतंत्र जरूर सफल होगा।



डॉ. सिंह ने कहा- यह देश के संविधान और लोकतंत्र का ही असर है कि आज भारत ज्ञान-विज्ञान, शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, सिंचाई, सड़क, रेल और विमान तथा संचार कनेक्टिविटी सहित विकास के हर क्षेत्र में नई बुलंदियों को छू रहा है। छत्तीसगढ़ भी इस दिशा में देश के सभी राज्यों के साथ आगे बढ़ रहा है।
उन्होंने कहा – राज्य निर्माण के विगत 17 वर्षाें में छत्तीसगढ़ ने भारत के सर्वाधिक तेज गति से विकसित हो रहे राज्य के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मुख्यमंत्री ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर किसानों, मजदूरों, आम नागरिकों, छात्र-छात्राओं, शिक्षकों, डॉक्टरों, इंजीनियरों, साहित्यकारों, कलाकारों और शासकीय कर्मचारियों-अधिकारियों सहित समाज के सभी वर्गों के लिए तरक्की और खुशहाली की कामना की है।

रायपुर : राज्यपाल श्री टंडन ने दी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं

रायपुर. राज्यपाल श्री बलरामजी दास टंडन ने गणतंत्र दिवस की 68 वीं वर्षगांठ पर प्रदेश के आम नागरिकों के साथ ही, देश की समस्त जनता और विदेशों में रहने वाले भारतीयों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी है। उन्होंने सीमाओं की रक्षा करने वाले हमारे प्रहरियों को उनके योगदान के लिए नमन किया है।

यह भी पढ़ें:- खेराबादधाम सिद्धपीठ मां फलोदी के दरबार में विदेशों से आते हैं भक्त, मंदिर प्रांगण में रहती हैं देवी मां

 

राज्यपाल श्री टंडन ने अपने संदेश में कहा कि आज का दिन देश की आजादी के लिए सर्वस्व न्योछावर करने वाले महापुरूषों को याद करने का दिन है, जिनकी बदौलत हमें आजादी हासिल हुई है। हमारा देश 26 जनवरी 1950 को गणतंत्र बना और यह दुनिया के विशालतम गणतंत्रों में से एक है। देश की जनता ने हमेशा लोकतांत्रिक व्यवस्था को पूरा प्यार और समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि हमारे देश का गणतंत्र और आजादी कायम रहे इसका भार देश के नौजवानों पर भी है, उन्हें देश के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने के लिए प्रण लेना चाहिए।



श्री टंडन ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश के विकास के लिए सबका साथ सबका विकास का जो मंत्र दिया है, उसमें देश की एकता और अखंडता छिपी हुई है। इसी मूलमंत्र को आत्मसात करते हुए छत्तीसगढ़ देश के साथ कदम से कदम मिलाकर चल रहा है। प्रदेश में गरीबों की तरक्की और भलाई के लिए अनेक कदम उठाए जा रहे हैं। साथ ही अनेक ऐसी योजनाएं जिन्हें केन्द्र ने प्रारंभ किया उन योजनाओं को राज्य सरकार द्वारा पूरी गंभीरता से लागू किया जा रहा है।

श्री टंडन ने विश्वास व्यक्त किया है कि छत्तीसगढ़ की जनता सरकार के कार्यों को पूरा सहयोग देगी, जिससे यह राज्य हर दृष्टि से देश के अग्रणी राज्यों में शामिल होगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top
error: Content is protected !!