गुरू घासीदास लोक कला महोत्सव के समापन समारोह में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह शामिल हुए

pamgarh chhattisgarh, pamgarh

रायपुर. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि प्रदेश सरकार की योजनाएं सबका साथ-सबका विकास की भावना के साथ सबके विकास के लिए लागू की गई हैं। छत्तीसगढ़ की सार्वजनिक वितरण प्रणाली, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, किसानों को शून्य ब्याज दर पर खेती-किसानी के लिए ऋण सुविधा, समर्थन मूल्य पर खरीदे गए धान पर किसानों को बोनस देने की योजना और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत सभी परिवारों को 50 हजार रूपए तक के निःशुल्क इलाज की सुविधा जैसी योजनाएं किसी और राज्य में संचालित नहीं की जा रही है। मुख्यमंत्री आज जांजगीर-चांपा जिले के विकासखण्ड मुख्यालय पामगढ़ में आयोजित दो दिवसीय गुरू घासीदास लोक कला महोत्सव के समापन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरू घासीदास जैसे संतों के आशीर्वाद से छत्तीसगढ़ आज देश के अग्रणी राज्य के रूप में आगे बढ़ रहा है।



आदिम जाति विकास मंत्री श्री केदार कश्यप, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री पुन्नूलाल मोहले, संसदीय सचिव श्री अम्बेश जांगड़े, विधायक डॉ. खिलावन साहू और छत्तीसगढ़ राज्य अंत्यावसायी सहकारी वित्त विकास निगम के अध्यक्ष निर्मल सिन्हा समारोह में विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने जनता के आग्रह पर पामगढ़ में उपकोषालय प्रारंभ करने, पामगढ़ में गुरू घासीदास मंगल भवन के निर्माण के लिए 25 लाख रूपए, ग्राम भदरा में मुक्तिधाम तक सीमेंट कांक्रीट सड़क निर्माण के लिए दस लाख रूपए और कुटराबोड़ गांव की नल-जल योजना की टंकी की स्वीकृति की घोषणा समारोह में की। उन्होंने गुरू घासीदास जयंती के अवसर पर पामगढ़ में आयोजित लोक कला महोत्सव के विजेता पंथी नर्तक दलों को पुरस्कार राशि प्रदान कर सम्मानित किया।



मुख्यमंत्री ने कहा-प्रदेश के अनुसूचित क्षेत्रों के विकास के लिए छत्तीसगढ़ में विकास प्राधिकरणों का गठन किया गया है। प्राधिकरणों के माध्यम से अनुसूचित क्षेत्रों में लगभग 400 करोड़ रूपए की लागत के विकास कार्य कराए जाते हैं। सतनाम पंथ के प्रवर्तक बाबा गुरू घासीदास की जन्म स्थली और कर्मस्थली गिरौदपुरी में न सिर्फ सबसे ऊंचे जैतखाम का निर्माण किया गया है, अपितु यहां श्रद्धालुओं के लिए बुनियादी सुविधाएं भी विकसित की गई है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2018 छत्तीसगढ़ के लिए महत्वपूर्ण वर्ष होगा। इस वर्ष प्रदेश के सभी गांवों के सभी घरों तक बिजली पहुंचा दी जाएगी। छत्तीसगढ़ प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत इस वर्ष खुले में शौच मुक्त राज्य बनेगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत अब तक गरीब परिवारों की लगभग 15 लाख 60 हजार महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पत्थर तोड़ने वाले श्रम वीरों के श्रम का सम्मान करते हुए उनके लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं प्रारंभ की गई हैं। पामगढ़ में आयोजित समारोह में उन्होंने श्रमिकों को 775 साईकल और 300 महिला श्रमिकों को सिलाई मशीन वितरित की। सौर सुजला योजना के अंतर्गत 25 किसानों को सोलर सिंचाई पम्प, 25 दिव्यांगजनों को मोटराईज्ड ट्राईसायकल और शासन की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के अंतर्गत 1396 हितग्राहियों को सात करोड़ रूपए से ज्यादा लागत की सामग्री वितरित की गई।

डॉ. सिंह ने कहा कि प्रदेश में बेहतर कनेक्टिविटी के लिए लगभग 35 हजार करोड़ के सड़क निर्माण के कार्य प्रगति पर हैं। प्रदेश की हर ग्राम पंचायत को इंटरनेट कनेक्टिविटी से जोड़ा जा रहा है। भारत नेट और बस्तर नेट परियोजना के अंतर्गत ऑप्टिकल केबल बिछाए जा रहे हैं। सूचना क्रांति योजना (स्काई योजना) के अंतर्गत 50 लाख लोगों को स्मार्ट फोन वितरित किए जाएंगे।



प्रधानमंत्री की जन-धन, आधार और मोबाइल, जेम योजना को इन स्मार्ट फोन के माध्यम से और व्यापकता मिलेगी और नगदी रहित लेन-देन को इससे बढ़ावा मिलेगा। इस स्मार्ट फोन में शासन की सभी योजनाओं की जानकारियां उपलब्ध रहेंगी और इसमें सभी योजनाओं के आवेदन भी डाउनलोड किए जा सकेंगे। गुरू घासीदास लोक कला महोत्सव में प्रथम स्थान प्राप्त दुर्ग जिले के उतई ग्राम के पंथी नर्तक दल को एक लाख रूपए, द्वितीय स्थान प्राप्त बालोद जिले के अमेरागांव के पंथी नर्तक दल को 75 हजार रूपए और तृतीय स्थान पर रहे बेमेतरा जिले के चारभांठा गांव के पंथी नर्तक दल को 50 हजार रूपए की पुरस्कार राशि के चेक प्रदान किए गए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top
error: Content is protected !!