रायपुर : छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् में मनाई गई गीता जयंती

geeta jayanti

रायपुर, 01 दिसम्बर 2017. छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् के राजधानी रायपुर न्यू राजेन्द्र नगर स्थित कार्यालय में कल गुरूवार को गीता जयंती ’मनाई गई’ इस अवसर पर विद्यामंडलम् द्वारा संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में दूधाधारी संस्कृत विद्यालय मठपारा के प्राचार्य श्री कृष्ण वल्लभ शर्मा ने भगवत गीता के महत्व पर प्रकाश डाला।

सच्ची धार्मिक कहानियां पढऩे के लिए फेसबुक पेज लाइक करें-  https://www.facebook.com/DharmKathayen/

उन्होंने कहा कि हमें अपने कर्मों के अनुसार परिणाम की प्राप्ति होती है। इसलिए सदकर्म करना चाहिए। छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् के अध्यक्ष स्वामी परमात्मानंद ने मोबाइल के माध्यम से अपने विचार रखे। उन्होंने कहा कि गीता में कर्म, ज्ञान और योग का महत्व बताया गया है।



व्याख्याता डॉ. ललित शर्मा ने कहा कि गीता के संदेश को मानव समाज के लिए उपयोगी हैं। कार्यक्रम के प्रारंभ में स्वास्ति वाचन और दीप प्रज्जवलन किया गया। इस अवसर पर डॉ. संतोष तिवारी श्री दानीराम वर्मा, डॉ. तोयनिधि वैष्णव, डॉ. सुखदेव राम साहू ने भी अपने विचार रखे। छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम के सचिव डॉ. सुरेश शर्मा ने गोष्ठी का संचालन किया।

यह भी पढ़ें:- रायपुर के श्री दत्तात्रेय मंदिर में जयंती महोत्सव, 10 दिनों तक ऐसा होगा भव्य आयोजन

कृतज्ञता ज्ञापन सहायक संचालक श्री लक्ष्मण प्रसाद साहू ने किया। इस अवसर पर शिक्षा आयोग के सदस्य श्री अक्षय श्रीवास्तव, सांई जल कुमार मसंद, प्रोफेसर आर.सी. पाण्डव सहित अनेक प्रबुद्ध नागरिक और संस्कृति विद्यामंडलम् के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

 

whatsapp पर रोज एक सच्ची धार्मिक कहानी पढऩे के लिए हमारे नंबर 8224954801 को dharma kathayen के नाम से सेव करें। इसके बाद हमारे नंबर पर start लिखकर whatsapp कर दें…

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!

Warning: Unknown: open(/tmp/sess_bf6b6f7275fae9484870e4d873df58e7, O_RDWR) failed: Disk quota exceeded (122) in Unknown on line 0

Warning: Unknown: Failed to write session data (files). Please verify that the current setting of session.save_path is correct () in Unknown on line 0