मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह मॉं भगवती शाकम्भरी महोत्सव में शामिल हुए

cm raman singh in maa bhagwati shakambari program

रायपुर. प्रदेश  के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह कबीरधाम जिले के सहसपुर लोहारा में रविवार को पटेल मरार समाज द्वारा आयोजित जिला स्तरीय मां भगवती शाकम्भरी महोत्सव में शामिल हुए। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि जहां मां भगवती शाकम्भरी का वास होता है, वहां शाकाहार का विशेष स्थान होता है और जहां शाकाहार है, वहां सच्चाई और शक्ति के साथ मेहनत का वास होता है, और जहां जिस समाज में सच्चाई और मेहनत है वह समाज लगातार विकास के राह में गतिमान होता है। उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार समाज के विकास के लिए अनेक योजनाएं चला रहा रही है। उन्होने पटेल मरार समाज की मांग पर सहसपुर लोहारा में सामुदायिक भवन निर्माण के लिए 15 लाख तथा ग्राम सैगोना मेें सामुदायिक भवन निर्माण के लिए 15 लाख रूपए देने की घोषणा की।
मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा कि समाज के विकास और स्वच्छ समाज के निरंतर विस्तार के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनाएं संचालित की जा रही है, जिससे हमारा समाज और प्रदेश लगातार विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। उन्होने कहा कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहंुचाया जा रहा है। उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने अंतिम व्यक्ति-किसानों के विकास और उनके आर्थिक प्रगति के लिए शाकम्भरी योजना बनाई है, ताकि कृषि क्षेत्र में जुड़े छोटे-तबके के किसानों को प्रत्यक्ष लाभ मिले। आज शाकम्भरी योजना से प्रदेश के हजारों किसानों को लाभ मिल रहा है। इस योजना से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आई है, किसानों को सिचाई के लिए ठोक प्रबंध किया जा रहा है। उन्होने कहा कि इसी कड़ी में किसानों के लिए सौर-सुजला योजना बनाई गई है, जिन खेतों में बिजली नहीं पहुंची है,वहां इस योजना से उस किसान को सिंचाई का लाभ मिल रहा है, जिसका सूखद परिणाम भी देखने को मिल रहा हैं। उन्होने कहा कि आज प्रदेश के किसानों को तकनीकि खेती के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। नए-नए कृषि उपकरण किसानों को कम दर पर उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रदेश के किसान तकनीकि खेती के साथ-साथ उद्यानिकीय फसलों की ओर आगे बढ़ रहा है, जहां प्रदेश में उद्यानिकी रकबा 36 हजार हैक्टयेर था आज लाखों हैक्टेयर में उद्यानिकी फसल ली जा रही है। उन्होने कहा कि कबीरधाम जिले में सहसपुर लोहारा, कवर्धा सहित अन्य विकासखण्डो में किसाानों द्वारा उद्यानिकी की नगदी फसले ली जा रही है। उन्होने अपने राजनीतिक जीवन के शुरूआती दौर को भी स्मरण करते हुए कहा कि कबीरधाम जिले के गांव-गांव को मै व्यक्तिगत रूप से जानता हॅू,उस दौर को जब याद करता हूॅ,काफी पीड़ा भी होती है, उस दौर में जिले में आवागन के साधन नहीं थे,बरसात के दिनों में सड़कों में चलना कठीन होता था। आज दौर बदल गया है, गांव-गांव में पक्की सड़के देखने को मिलता है। पूरे प्रदेश में विकास साफ दिखाई देती है,जिसे महसूस किया जा सकता है।



सांसद श्री अभिषेक ंिसंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने हाल ही में केबिनेट बैठक बुलाकर पूरे प्रदेश के नगरीय क्षेत्रों के बाजार से पसरा टैक्स छूट देने का निर्णय लिया हैै। उनहोने कहा कि पसरा टैक्स छूट देने के निर्णय से हर समाज के लोगों को लाभ मिलेगा। उन्होने यह भी कहा कि पटेल मरार समाज का मुख्य अजीविका का साधन कृषि है साथ ही सब्जी-भांजी का व्यवसाय है। उन्होने कहा कि पसरा टैक्ट का छूट मिलने से इस मसाज के लोगों का प्रत्यक्ष लाभ मिलेगा। उन्होने कहा कि आने वाले दिनों में नगरीय निकायों के अलावा ग्रामीण बाजार-हॉट में भी पसरा टैक्स की छूट का लाभ का निर्णय लिया जा सकता है। उन्होने जिला स्तरीय मां भगवती शांकम्भरी महोत्सव के आयोजन के लिए सभी समाज प्रमुखों सहित समाज के सभी लोगों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री संतोष पटेल, जिला पंचायत सदस्य श्री परदेशी पटेल, तुलसी राम पटेल ने भी सभा का संबोधित किया। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रमशीला साहू, संसदीय सचिव श्री मोतीराम चन्द्रवंशी, कवर्धा विधायक श्री अशोक साहू, गो सेवा आयोग अध्यक्ष श्री बिसेसर पटेल, पिछड़ वर्ग आयोग अध्यक्ष डॉ सियाराम साहू, श्री विजय पटेल, श्री देवचरण पटेल, श्री खडगराज सिंह, श्री संतोष पंाडेय, श्री राम कुमार भट्ट, श्री विजय शर्मा, सहित पटेल समाज के प्रदेश स्तरीय एवं जिला स्तरीय पदाधिकारी विशेष रूप से उपस्थित थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Top
error: Content is protected !!