सूर्य देव देतें है अभिमान

ravivar surya bhagwan ki puja vidhi, niyam or mahatva hindi me

प्रातः हर मनुष्य में अपने को बड़ा मानने की प्रवृत्ति सहज ही होती है और यह प्रवृत्ति बुरी भी नहीं है। किंतु अकसर अहं स्वयं को सही और दूसरो को गलत साबित करता है। आत्मसम्मान और स्वाभिमान के बीच बारीक रेखा होती है जिसमें अहंकार का कब समावेश होता है पता भी नहीं चलता। कोई कितना भी योग्य हो यदि वह अपनी योग्यता का स्वयं मूल्यांकन करता है तो आदर का पात्र नहीं बन पाता अतः बड़ा बनकर आदर का पात्र बनने हेतु अहंकार का त्याग जरूरी है। अहंकार का

समृधि से हैं वंचित, तो करें अन्नदान

benefits of food donation in hindi

            समृधि की चाह सभी को होती है किन्तु पाते कुछ लोग ही हैं. कोई जीवन में सभी सुखो को भोगता है तो कुछ लोग प्लान ही करते रहते हैं की इस बार ये खरीदेंगे तो अगली बार वो. कभी धन की कमी तो कभी अचानक आ गए खर्च पुरे प्लान को ख़राब भी कर देता है.इसलिए प्लान करने के साथ ही सुख और समृधि की कामना से कुछ ज्योतिष उपाय अपनी कुंडली के अनुसार भी कर लेना चाहिए और कुंडली दिखाना सम्भव ना हो हमारे शास्त्रों में कुछ महत्वपूर्ण

पँ कपिल शर्मा जी ‘काशी’ से जानिए महाशिवरात्रि निर्णय, 13 को मनाएं या 14 को

pandit kapil sharma.jpg

सनातन धर्म में महाशिवरात्रि का विशेष महत्व प्रतिपादित है। भगवान शिव की आराधना का यह विशेष पर्व माना जाता है। पौराणिक तथ्यानुसार आज ही के दिन भगवान शिव की लिंग रूप में उत्पत्ति हुई थी। प्रमाणान्तर से इसी दिन भगवान शिव का देवी पार्वती से विवाह हुआ है। अतः सनातन धर्मावलम्बियों द्वारा यह व्रत एवं उत्सव दोनों में अति हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। वैसे तो सम्पूर्ण भारतवर्ष में इसकी महिमा प्रथित है वैसे तो प्रतिवर्ष शिवरात्रि पर्व मनाया जाता है परन्तु इस वर्ष कुछ पंंचांगकारोंं एवं धर्माधिकारियों के द्वारा

जानिए महाशिवरात्रि कब है, महानिशीथकाल के फेर में इस दिन मनाएंगे महाशिवरात्रि पर्व

maha-shivaratri-photo-

maha shivratri 2018 date and time in indiaउज्जैन. महाशिवरात्रि भारत के प्रमुख पर्वों में से एक है, जिसे देशभर में बहुत ही उत्साह और प्रसन्नता के साथ भगवान शिव यानी महाकालेश्वर की आराधना करकेे मनाया जाता है। इस पर्व के पीछे मुख्यत: दो मान्यताएं बताई जाती हैं, पहली सृष्टि का आरंभ इसी दिन हुआ था और दूसरी इस दिन भगवान शिव का विवाह माता पार्वती से हुआ था। महिलाओं के लिए शिवरात्रि का विशेष महत्व है। अविवाहित महिलाएं भगवान शिव से प्रार्थना करती हैं, कि उन्हें उनके जैसा ही पति

क्या आपको पार्टनर धोखा दे रहा है- जाने अपनी ग्रह दशा से –

weekly horoscope

पार्टनर मतलब जीवन का साथी वह जीवन साथी भी हो सकता है या व्यवसाय का साथी भी या कार्यक्षेत्र का साथी सभी साथ... साथी को जानने के लिए सप्तम भाव को प्रमुखता से देखा जाता है.. व्यवसाय करना हो या अच्छी दोस्ती ... लाइफ पार्टनर हो या बिजनेस पार्टनर शुरू में तो बहुत अच्छा लगता है किंतु कुछ समय के बाद आपस में विवाद, मतभेद दिखाई देने लगते हैं। एक दूसरे के उपर दोषारोपण, धोखा जैसी बातें होने लगती है। इसका कारण ज्योतिषीय विष्लेषण से दिखाई देता हैं किसी भी

Friday fast: इस विधि से 16 शुक्रवार मां संतोषी का उपवास करें, भरपूर रहेगा धन-धान्य

maa santoshi photo

friday fasting for husband, friday fast for durga, friday fast for durga in hindi, friday fast hindu, 16 friday fasting for goddessहफ्ते के सातों दिन ज्योतिष विद्या के मुताबिक खास महत्व रखते हैं। हिंदू धर्म में धन की देवी मां लक्ष्मी हैं। मां लक्ष्मी संतोषी माता का ही रुप हैं, शुक्रवार को मां संतोषी का विधि विधान से व्रत रखने और कथा पढ़ने से मां लक्ष्मी की कृपा बरसती हैं। सारी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। अगर कोई भक्त 16 शु्क्रवार माता का व्रत कर लेता हैं, तो मान्यता हैं कि

संकष्टी चतुर्थी 2018 व्रत कथा: भगवान शंकर ने मनोकामना पूर्ति के लिए किया था यह व्रत

sankashti chaturthi

sankashti chaturthi 2018 vrat katha story and kahani sankashti chaturthi fasting procedure method hereरायपुर. संकष्टी चतुर्थी 2018 पर व्रत करके कथा पढऩे वाले व्यक्ति की मन की शक्ति प्रबल होती हैं, ऐसी मान्यता हैं। शास्त्रों में कहा गया है कि यह व्रत मनोकामना पूर्ण करने के लिए भगवान शिव ने भी किया था।इस व्रत वाले दिन श्रद्धालु सूर्योदय से लेकर चंद्रोदय तक व्रत करते हैं।शास्त्रों में कहा गया हैं कि भगवान गणेश की पूजन और उनका यह व्रत करना बेहद लाभकारी होता हैं। इस कथा के मुताबिक भगवान गणेश का संकष्टी

आकाशीय रंगमंच पर दिखा ब्लू मून, सुपर मून और चंद्रग्रहण

grahan kaise hota hai in hindi, chandra grahan kab hota hai,

super blue blood moon 2018 india live lunar eclipse 2018 LIVE UPDATES Stunning super blue blood Moon Photos From Across India in hindi अरविंद गुप्ता @ कोटा. दुर्लभ घटना: कई वर्षों बाद आकाश में दिखा चमत्कारिक नजारा। अगला पूर्ण चंद्रग्रहण 2037 में होगा। आकाशीय रंगमंच पर चंद्रमा का अनोखा नजारा राज्य के विभिन्न शहरों में लोगों ने बहुत उत्सुकता से देखा। देश के उश्ररी आसमान में बुधवार शाम 5:58 बजे से रात 8:41 बजे तक पूर्ण एवं आंशिक चंद्रग्रहण की दुर्लभ खगोलीय घटना हुई। वर्षों बाद आकाश में एक माह में

पं. कपिल शर्मा जी काशी बता रहे हैं ग्रहण में कैसे करें ग्रहों को प्रसन्न

pandit kapil sharma.jpg

chandra grahan 2018 date and time impact dont do these thing during lunar eclipse on 31 january follow these precaution tips on chandra grahanपँ कपिल शर्मा काशीग्रहण में करें ग्रहों को प्रसन्न ऐसी आका शीय घटना 182 वर्षो के बाद तथा 35 वर्षो के बाद ऐसा ग्रहण लगेगा। कर्क राशि का यह ग्रहण नेताओ में आपसी मतभेद (अपनी ही पार्टी से बगावत) तथा मछुआरों को पीड़ा देने वाला, मत्स्यदेश (राजस्थान का  अलवर, दौसा आदि क्षेत्र) को कष्टदायक होगा। खग्रास चन्द्रग्रहण – 31जनवरी2018 पर कुछ विशेष जानकारी- आपको बता दें कि वर्ष 2018 का पहला चंद्रग्रहण

फरवरी 2018 : इस माह के यह हैं प्रमुख व्रत, पर्व और त्योहार

hindu tyohar list 2017 in hindi,

(hindu festivals calendar 2018 in hindi festivals in the month of february vrat tyohar)साल 2018 का दूसरे माह (february 2018 festival) में कई उत्सव, व्रत, पर्व और त्योहार हैं। हमें पहले से ही व्रत, पर्व और त्योहारों के बारे में जानकारी मिल जाए तो हम पहले से ही तैयारियां कर सकते हैं। इसके साथ ही हम अपने ईष्ठ देव की पूूजन हम पूर्व विधि विधान से कर सकते हैं। कुछ इसी तरह की बातों को ध्यान में रखते हुए धर्म कथाएं डॉट कॉम  ( http://dharmakathayen.com ) आपको बताने जा रहा हैं,

Top
error: Content is protected !!