श्री शीतला माता जी की आरती

sheetla mata ki aarti in hindi

Ghanta Shankh Shenyi Baaje Man Bhata,. Karein Bhagatjan Aarti Lkhi Lkhi Harhata ||Jai Sheetla Mata||. Brahma Roop Vardani Tuhi Teen Kaal Gyataजय शीतला माता, मैया जय शीतला माता,आदि ज्योति महारानी सब फल की दाता। जय शीतला माता...रतन सिंहासन शोभित, श्वेत छत्र भ्राता, ऋद्धि-सिद्धि चंवर ढुलावें, जगमग छवि छाता। जय शीतला माता...विष्णु सेवत ठाढ़े, सेवें शिव धाता, वेद पुराण बरणत पार नहीं पाता । जय शीतला माता...इन्द्र मृदंग बजावत चन्द्र वीणा हाथा, सूरज ताल बजाते नारद मुनि गाता। जय शीतला माता..घंटा शंख शहनाई बाजै मन भाता, करै भक्त जन आरति लखि लखि हरहाता। जय शीतला माता... ब्रह्म रूप वरदानी

मां वैष्णो देवी : आरती का महत्व और नियम

maa vaishno devi aarti lyrics in hindi

पूजा पाठ, ईश्वर आराधना से आत्मिक शांति की अनुभूति होती है। लेकिन भगवान की पूजा बगैर आरती के पूरी नहीं मानी जाती है। पूजन में आरती का बहुत खास महत्व है।आरती का महत्व और नियम पूजा के बाद आरती दूर करती है मुश्किलें आरती से ईश्वर की आराधना और पूजा से मनोकामना पूरी होती है -पूजा पाठ और साधना में सभी मनोकामना पूरी करती है -चिंताओं से दूर कर असीम शांति का अहसास करवाती है -भगवान की आरती के बाद ही पूजा पूरी होती है -आरती की सबसे पहले चर्चा स्कंद पुराण में की गई -आरती हिंदू

संकटमोचन भगवान हनुमान कलयुग में भी हल करते भक्तों की समस्या

shri hanuman ji ki aarti or chalisa

भगवान हनुमान जी का नाम लेने मात्र से भक्तों के दुख दूर हो जाते हैं। आज के कलयुग में भी रामभक्त हनुमान को जीवित-अमरता का वर प्राप्त है। वे आज भी भक्तों का समस्या पल भर में हल करते हैं। आइए हम आपको हनुमान जी का चालीसा-आरती बताते हैं। इनका पाठ करने से आपकी हर समस्या हल हो जाएगी...।(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});इस समय हनुमान चालीसा का पाठ करने से मिलता है पूरा फल हनुमानजी की भक्ति सबसे सरल और जल्द ही फल प्रदान करने वाली मानी

Top
error: Content is protected !!