जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 30 अक्टूबर 2018

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 30 अक्टूबर 2018 -मंगलवार -सूर्योदय 05:49:26 -सूर्यास्त 05:09:22 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु निरयन- शरद ऋतु सायन- हेमन्त -कार्तिक मास -कृष्ण पक्ष -षष्ठी तिथि 13:47:21 परं सप्तमी तिथि -आद्रा नक्षत्र 06:40:38 परं -पुनर्वसु नक्षत्र 28:38:54 - सिद्ध योग 19:24:55 परं साध्य योग -प्रथम वणिज करण 19:55 -द्वितिय विष्टी करण 47:05 -राहुकाल-15 /31 / 17:00 अशुभ -अभिजीत 11:40/ 12 :25 शुभ -सूर्य- तुला राशि -चन्द्र- मिथुन राशि 23:32:02 परं कर्क राशि।-स्कन्धषष्ठी 6 -भद्रारंभः13:47 -भद्रान्तः 24:39 -अमृत योग 13:47 उ - मृत्युयोग 13:47 या -वक्री शुक्र चित्रा में -पुनर्वसु में शनिवेध*-कार्तिकमासः* *-कार्तिके द्विदलंत्यजेत* *-लक्ष्मीयुतं विष्णुं पर्यकें पूजनं* *-चैहल्लम मुस्लिम पर्व*दान *यस्य वित्तं न दानाय नोपभोगाय देहिनाम्।* *नापि कीर्त्यै न धर्माय तस्य वित्तं निर्थकम्।।* अर्थात्- जिसका धन न तो दान में

इस हफ्ते सूर्य बदलेंगे राशि, देखिए आपके जीवन में क्या-क्या बदलाव

ज्योर्तिविद पं. संजय शर्मा : साप्ताहिक भविष्यफल @ दिनांक 28 अक्टोबर 2018 से 03 नवंबर 2018 मेष - मान सम्मान में वद्धि के अवसर की प्राप्ति होगी । स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। आपकी किसी मनोकामना की पूर्ती संभव है ,आय के स्रोत में अकस्मात ही वृद्धि होगी। सप्ताहांत में मनोनूकूल परिणाम मिलने में संदेह रहेगा,मूवी देखने की योजना बना सकते हैं । अनिर्णय की स्थिति निर्मित होगी , विदेश में काम करने की योजना बनेगी या मदद मिलेगी । भाग्य पक्ष उत्तम है, भूमि भवन वाहन खरीदने की योजना टलेगी , सरकारी योजनाओं का क्रियान्वयन होगा। सन्तान

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 29 अक्टूबर 2018

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 29 अक्टूबर 2018 -सोमवार -सूर्योदय 05:49:00 -सूर्यास्त 05:09:58 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु निरयन- शरद ऋतु सायन- हेमन्त -कार्तिक मास -कृष्ण पक्ष -पंचमी तिथि 15:55:56 परं षष्ठी तिथि -मृगशिरा नक्षत्र 08:02:20 परं -आद्रा नक्षत्र -शिव योग 22:22:49 परं सिद्ध योग -प्रथम तैतिल करण 25:17 -द्वितिय गर करण 52:40 -राहुकाल- 07 /31 / 09:00 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :25 शुभ -सूर्य- तुला राशि -चन्द्र- मिथुन राशि ( अहोरात्र) -अमृत योग 15:55 या -सिद्ध योग 15:55 उ -मृत्युबाण 09:39 या -मृगशिरा में - केतुवेध -आद्रा में- यंत्रशस्त्रघटन, धान्यछेदन मुहूर्त।-कार्तिकमासः -कार्तिके द्विदलंत्यजेत -लक्ष्मीयुतं विष्णुं पर्यकें पूजनं-दाम्पत्यसुख वृद्धि हेतु मंत्र -"ऊँ श्रीं ह्रीं पूर्णगृहस्थ सुखं सिद्धये ह्रीं श्रीं ऊँ!दान यस्य वित्तं न दानाय नोपभोगाय देहिनाम्। नापि कीर्त्यै न धर्माय

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 26 अक्टूबर 2018

*जय श्रीराधेकृष्ण!**-सूर्यसिद्धान्तीय* *-(सूर्य पंचांग रायपुर)* -दिनांक 26 अक्टूबर 2018 -शुक्रवार -सूर्योदय 05:47:43 -सूर्यास्त 05:11:54 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु निरयन- शरद ऋतु सायन- हेमन्त -कार्तिक मास -कृष्ण पक्ष -द्वितीया 20:39:41 परं तृतीया तिथि -भरणी नक्षत्र 10:16:59 परं -कृत्तिका नक्षत्र - सिद्धि योग 07:57:34 परं व्यतिपात योग -प्रथम तैतिल करण 08:18 -द्वितिय गर करण 37:10 -राहुकाल- 10:31 / 12:00 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :26 शुभ -सूर्य- तुला राशि -चन्द्र- मेष राशि 16:13:41 परं वृषभ् राशि-अशून्यशयन 2 व्रतं -मृत्युयोग 20:39 या -भरणी में व्यतिपात व्याप्त-कार्तिकमासः -कार्तिके द्विदलंत्यजेत -लक्ष्मीयुतं विष्णुं पर्यकें पूजनं- -गुरूरामदास जयंती*दाम्पत्यसुख वृद्धि हेतु मंत्र➖* - *"ऊँ श्रीं ह्रीं पूर्णगृहस्थ सुखं सिद्धये ह्रीं श्रीं ऊँ।।"*- *रूपंदेहि जयंदेहि यशो देहि द्विषो जहि।**दान➖**यस्य वित्तं न दानाय नोपभोगाय देहिनाम्।* *नापि कीर्त्यै न धर्माय तस्य वित्तं

दीपावली तक कैसा रहेगा आपका समय, वित्त तथा व्यवसाय, स्वास्थ्य, प्रेम व वैवाहिक जीवन, करियर- शिक्षा

मेष राशि >>>>>> मिश्रित फलदायी सप्ताह. उतार-चढ़ाव भरा सप्ताह. कड़ी मेहनत का समय. फिजूल की यात्रा के योग. सप्ताह के शुरू में भय या उलझन का माहौल. सप्ताह के शुरू में अपने क्रोध पर नियंत्रण रखें. वाहन खरीदने से बचें, खासकर 25 से 27 अक्टूबर के बीच. इस दौर में दफ्तर में भी सतर्क रहें. उत्तरार्ध में सेहत अच्छा. कार्य क्षेत्र में सफलता के योग, मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि. धन वृद्धि, यात्रा के भी योग.वृषभ राशि >>>>>>> मिश्रित फलदायक. शुरू और अंत का दो दिन अच्छा. मध्य में ज्यादा उलझन भरा समय. सप्ताह की शुरुआत

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 24 अक्टूबर 2018 बुधवार

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 24 अक्टूबर 2018 -बुधवार -सूर्योदय 05:46:55 -सूर्यास्त 05:13:15 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -पूर्णिमा 21:55:45 परं प्रतिपदा -रेवती नक्षत्र 09:39:11 परं -अश्विनी नक्षत्र - हर्षण योग 10:44:27 परं वज्र योग -प्रथम विष्टी करण 09:52 -द्वितिय बव करण 39:57 -राहुकाल- 12:01 / 13:30 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :26❎अशुभ -सूर्य- तुला राशि -चन्द्र- मीनराशि 09:39:11 परं मेष राशि -स्नानदानव्रतादौ पूर्णिमा -शरद पूर्णिमा -कोजागरी पूर्णिमा -नवान्न पूर्णिमा -कूमार पूर्णिमा -लक्ष्मीइन्द्रपूजन (उड़ीसा) रात्रौ लक्ष्मीन्द्रकुबेरादिपूजनं -अहोरात्र घृतदीपप्रज्वालनीयम् -कार्तिक व्रतस्नाननियमाद्यारंभः -भद्रान्तः 09:43 -गण्डान्तः 15:50 -पंच्चकान्तः 09:39 -स्वात्यांरविः 24:00:54 -भद्रोत्तर अश्विनी में- गौ क्रय विक्रय नवान्नभक्षण विपणी मुहूर्त। -आश्विनीमासः -दुग्धमाश्विने त्यजेत -भा कार्तिक मास प्रारंभ -शरदोत्सवः -महर्षिबाल्मीकि जयंती -कार्तिकदीपदानारंभः -कार्तिकव्रतस्नाननियमादिरंभः -नवपदओलीसमापनं (जैन) -पीर मस्त्येन्द्रनाथ महोत्सवः -महाराजा अजमीढ़ देव जयंती -संयुक्त राष्ट्र संघ दिवसदान➖ यस्य वित्तं न दानाय नोपभोगाय देहिनाम्। नापि कीर्त्यै न धर्माय तस्य वित्तं निर्थकम्।। अर्थात्- जिसका

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 23 अक्टूबर 2018

जय श्रीराधेकृष्ण!-सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 23 अक्टूबर 2018 -मंगलवार -सूर्योदय 05:46:32 -सूर्यास्त 05:13:57 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -चतुर्दशी तिथि 21:33:48 परं पूर्णिमा - उत्तराभाद्रपद नक्षत्र 08:35:41 -रेवती नक्षत्र - व्याघात योग 11:32:00 परं हर्षण योग -प्रथम गर करण 08:44 -द्वितिय वणिज करण 39:28 -राहुकाल- 15:31 / 17:00 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :27शुभ -सूर्य- तुला राशि -चन्द्र- मीनराशि (अहोरात्र)-वक्री शुक्र पूर्वोदितः 36:52 -धनिष्ठायां मंगलः 40:55 -भदारंभः 21:34 -गण्डान्तारंभः 27:26 -सर्वार्थ सिद्धयोग 08:35 या -उत्तराभाद्रपद - रेवती में- रिक्त्ताव्याप्ति, रोगविमुक्तास्नान मुहूर्त। -सौर हेमन्त ऋतु प्रारंभ-पंचक (अहोरात्र)-आश्विनीमासः -दुग्धमाश्विने त्यजेत -भा कार्तिक मास प्रारंभश्रीमद् भगवद् गीता विश्व में गीता का समादर है।भारत में प्रकट हुई गीता विश्व मनीषा की धरोहर है। अतः इसे राष्ट्रीय शास्त्र का मान देकर कलह-कष्ट से

तुला राशि में सूर्य गोचर के परिणाम, किसके जीवन में आएगी शुभता और किसको हो सकती है परेशानी?

जब सूर्य राशि परिवर्तन करता है, तो इसे सूर्य संक्रांति के नाम से जाना जाता है. 17 अक्टूबर को सूर्य शाम 06:44 बजे सूर्यदेव तुला राशि में प्रवेश करेंगे. चूंकि सूर्य एक राशि में एक महीने की अवधि तक गोचर करते हैं इसलिए ये इस बार 16 नवम्बर की शाम 06:32 तक यहीं रहेंगे. तुला राशि सूर्य की नीच राशि मानी जाती है अर्थात यहां जाकर वे कमजोर होंगे. अब राशिवार जाने:ज्योतिर्विद बब्बन कुमार सिंह 8989098404 मेष राशि: पांचवें के स्वामी सातवें में जा रहे हैं. यहां पंचमेश सप्तमेश को पीड़ित

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 18 अक्टूबर 2018 गुरूवार

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 18 अक्टूबर 2018 -गुरूवार -सूर्योदय 05:44:43 -सूर्यास्त 05:17:40 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -नवमी तिथि 14:02:09 परं दशवीं तिथि -श्रवण नक्षत्र 24:12:00 परं धनिष्ठा नक्षत्र -धृति योग 10:41:30 परं शूल योग -प्रथम कौलव करण 20:41 -द्वितिय तैतिल करण 53:20 -राहुकाल- 13:31 / 15:00 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :27शुभ -सूर्य- कन्या राशि -चन्द्र- मकर राशि (अहोरात्र) -तुलायांरवि 05:26 -सिद्धिदात्रीदेवीदर्शनं -महानवमी 9 व्रतं -त्रिशूलनीपूजा -पुण्यकालं 08:14 / 14:52 -सरस्वती विसर्जन -पंच्चकारंभः 24:12 -श्रवण में- भौमयुति -नवरात्रव्रतपारणा-आश्विनीमासः -नवरात्रि पर्व -सिद्धिदात्रीदेवीदर्शनं -नवमी बलिपूजनं -(नवम्यां उग्रचण्डायाः पूजांकुर्याद् बलिं) *नवरात्रि महापर्व*➖ 〰〰〰〰 *प्रार्थना➖* *सृष्टौ या सर्गरूपा जगदवनविधौ पालनी या च रौद्री,* *संहारे चापि यस्या जगदिदमखिलं क्रीडनं या पराख्या।* *पश्यन्ती मध्यमाथो तदनु भगवती वैखरी वर्णरूपा,* *सास्मद्वाचं प्रसन्ना विधिहरिगिरिशाराधितालकंरोतु।।* *अर्थात्➖* जगत् के सृष्टी कार्य में जो उत्पत्तिरूपा,रक्षाकार्य मैं पालनशक्तिरूपा, संहारकार्य में रौद्ररूपा हैं,सम्पूर्ण

जय श्रीराधेकृष्ण! सूर्यसिद्धान्तीय (सूर्य पंचांग रायपुर) दिनांक 17 अक्टूबर 2018 बुधवार

जय श्रीराधेकृष्ण! -सूर्यसिद्धान्तीय -(सूर्य पंचांग रायपुर) -दिनांक 17 अक्टूबर 2018 -बुधवार -सूर्योदय 05:44:23 -सूर्यास्त 05:18:27 -दक्षिणायन -संवत् 2075 -शक् 1940 -ऋतु- शरद -आश्विन मास -शुक्ल पक्ष -अष्टमी तिथि 11:55:29 परं नवमी तिथि -उत्तराषाढ़ा नक्षत्र 21:34:57 परं श्रवण नक्षत्र -सुकर्मा योग 10:08:06 परं धृति योग -प्रथम बव करण 15:08 -द्वितिय बालव करण 48:03 -राहुकाल- 12:00 / 13:30 अशुभ -अभिजीत 11:41/ 12 :28 ❎अशुभ -सूर्य- कन्या राशि -चन्द्र- मकर राशि (अहोरात्र)-श्रीदुर्गाष्टमी 8 व्रतं -महाष्टमी व्रतं -महागौरीदेवीदर्शनं -सिद्धिदात्रीपूजनं -श्रीसरस्वती बलिदानं - हवनाष्टमी 8 -अन्नपूर्णा परिक्रमा (11:55 यावत्) -आश्विनीमासः -नवरात्रि पर्व -महागौरीदेवीदर्शनं -महागौरीपूजनं -नवमी बलिपूजनं *नवरात्रि महापर्व*➖ 〰〰〰〰 या देवि! सर्वभूतेषु! -नवरात्रि महापर्व, शक्ति आराधना, उपासना, साधना, का पर्व है ।इन्द्रियों के संयमन एवं आसुरी प्रवत्तियों पर नियंत्रण का यह पर्व है। दुर्गादेवी की दिव्य शक्तियां समस्त विश्व में , समस्त सृष्टि में, समस्त ब्रह्माण्ड

Top
error: Content is protected !!